सिमगा बस स्टैण्ड का नामकरण राज राजेश्वरी करूणा माता के नाम पर

सिमगा बस स्टैण्ड का नामकरण राज राजेश्वरी करूणा माता के नाम पर


 

सिमगा बस स्टैण्ड का नामकरण राज राजेश्वरी करूणा माता के नाम पर



ब्यूरो-मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल आज बलौदाबाजार-भाटापारा जिले के तहसील मुख्यालय सिमगा में आयोजित बाबा गुरु घासीदास जयंती समारोह में शामिल हुए। मुख्यमंत्री ने बाबा गुरु घासीदास के चित्र पर माल्यार्पण एवं जैतखाम की पूजा अर्चना कर जयंती समारोह का शुभारंभ किया और प्रदेशवासियों की खुशहाली और समृद्धि की कामना की। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने राज राजेश्वरी करूणा माता के नाम से सिमगा बस स्टैण्ड का नामकरण करने की घोषणा की।    

   

 मुख्यमंत्री श्री बघेल ने जयंती समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि बाबा गुरु घासीदास के द्वारा कहे गए आदर्श वाक्य मनखे मनखे एक समान को आत्मसात करने से ही मानव जीवन का कल्याण हो सकता है। उन्होंने कहा कि सभी मानवों को एक समान मानते हुए प्रदेश सरकार बिना भेदभाव के सभी के हित में काम कर रही है और बाबा जी के आदर्शों और नैतिकता के रास्ते पर चलते हुए ही प्रदेश सरकार ने सफलतम 2 वर्ष पूरे कर लिए हैं। उन्होंने कहा कि सभी वर्गों के हितों को ध्यान में रखकर राज्य सरकार योजना बना रही है। मुख्यमंत्री ने सिमगा में सभा को सम्बोधित करते हुए सभी वर्गो के लोगों को राज्य और देश के विकास में भागीदार बनने की अपील भी की। मुख्यमंत्री ने अपार जनसमुदाय एवं बाबा गुरूघासीदास जी के अनुयायियों को संबोधित करते हुए कहा कि गुरू घासीदास ने सामाजिक एकता का संदेश दिया है। आपसी भाईचारा और शांति के पथ पर चलने के लिए प्रेरित किया है। उन्होंने मनखे-मनखे एक समान का संदेश देकर समाज की एकता के लिए मार्ग प्रशस्त किया है। कार्यक्रम की शुरूआत राज गीत अरपा पैरी के धार से हुयी।


 मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि किसानो को आर्थिक रूप से सक्षम बनाने के लिए राज्य सरकार ने राजीव गांधी न्याय योजना के माध्यम से प्रति एकड़ दस हजार रूपए देना प्रारंभ किया है। जिसकी तीन किस्तें किसानों को मिलने से खुशहाली का माहौल है। चौथी और अंतिम किस्त का भी भुगतान मार्च के महीने में किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि गौमाता की सेवा के लिए अनेक योजनाएं बनाई है।  विगत दो वर्षों में गांव में गौठान बनाकर गोबर को दो रूपए में खरीदने के लिए गोधन न्याय योजना बनाकर गौमाता की सेवा करने वाला छत्तीसगढ़ देश का पहला राज्य है। मुख्यमंत्री ने कहा कि अनुसूचित जाति जनजाति के उत्थान के लिए अनेक कदम उठाए गए हैं। 


      नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री डॉ. शिव डहरिया ने कहा कि समाज में अन्याय एवं अत्याचार से लड़ने का एकमात्र रास्ता सत्य एवं अहिंसा है। इसी रास्ते पर चलने का रास्ता बाबा जी ने दिखाया है। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री गुरू रूद्रकुमार ने कहा कि बाबा जी ने कहा है कि हम ऐसे काम करें कि जिससे दूसरों को कष्ट ना हो। जैतखाम के सफेद पालों की तरह हमें अपने शरीर और आत्मा को शुद्ध रखने चाहिए। उन्होंने कहा कि वर्ष 2023 तक राज्य के प्रत्येक गांव के प्रत्येक घर में नल के जरिये पानी पहुंचा कर दिया जाएगा। इसकी कार्य-योजना तैयार हो चुकी है। समारोह को कृषक कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष श्री सुरेन्द्र शर्मा और जिला पंचायत उपाध्यक्ष श्रीमती सरिता ठाकुर ने भी सम्बोधित किया। जिला पंचायत सदस्य श्री रमेश धृतलहरे ने आयोजन समिति की ओर से स्वागत उद्बोधन एवं मांग पत्र प्रस्तुत किया। इस अवसर पर खनिज विकास निगम के अध्यक्ष श्री गिरीश देवांगन एवं संसदीय सचिव सुश्री शकुन्तला साहू भी उपस्थित थीं।