ग्रीन एक्शन वीक वर्क शॉप

ग्रीन एक्शन वीक वर्क शॉप


ग्रीन एक्शन वीक व सहभागी समाज सेवी संस्था द्वारा होटल मयूरा जी ई रोड़ रायपुर में एक दिवसीय स्टेक होल्डर्स कार्यशाला का आयोजन किया गया जिसका मुख्य उद्देश्य पर्यावरण की सुरक्षा करना है ।

 *ग्रीन एक्शन वीक वर्क शॉप

2020* के तहत सहभागी समाज सेवी संस्था द्वारा *कट्स इंटरनेशनल जयपुर व स्वीडिश सोसायटी फार नेचर कंजर्वेशन* के सहयोग से छत्तीसगढ़ में समुदाय साझाकरण (sharing community) कार्यक्रम संचालित कर रहा है । यह कार्यक्रम सतत विकास लक्ष्य-12  (SDG-12 ) - स्थाई उपभोग व उत्पादन प्रणाली को सुनिश्चित करने व सेक्युलर इकोनॉमी के सिद्धांत को जमीनी स्तर पर क्रियान्वित करने की दिशा में लोगों को जागरूक करने का कार्य कर रहा है । इस कार्यक्रम के अंतर्गत संस्था ने सितम्बर व अक्टूबर माह में जागरूकता अभियान चला कर लोगों को जानकारी देने का प्रयास किया । 

इस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कट्स इंटर नेशनल के सीनियर कार्यक्रम आफिसर श्री अमरदीप सिंह जी ने सेक्युलर इकोनॉमी के सिद्धांत रीयूज,रिसाइकल, रिपेयर आदि के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए कहा कि हमे खपत को धीमा करना है ताकि प्राकृतिक संसाधनो को बचाया जा सके । 

यूनिसेफ के राज्य प्रमुख श्री जॉब जकारियस जी ने कहां कचरा प्रबंध व स्वच्छता एक बड़ी समस्या है और इसे हम सब लोग ही मिलकर समाधान कर सकते है । पर्यावरण संरक्षण मण्डल के श्री जे लकड़ा जी ने मंडल के द्वारा लगाए जा रहे ई वेस्ट प्लान व जागरूकता अभियानों के बारे में जानकारी दी और कहा कि मण्डल स्वैच्छिक संस्थाओं के साथ मिलकर अपनी योजनाओं के क्रियान्वयन का प्रयास करेगा । क्रेडा के कार्यपालन अभियंता श्री जे एन बैगा जी ने बताया कि किस तरह से सौर ऊर्जा का प्रयोग कर हम अपने घरों व खेतो में बिजली के उपयोग को कम कर सकते है और अपने हैम महीने के खर्चे को भी बचा सकते है, हेल्पेज के राज्य प्रमुख श्री शुभांकर विस्वास जी ने वरिष्ठ नागरिकों द्वारा किए जा रहे प्रयासों व महत्वपूर्ण भूमिका की तरफ इशारा करते हुए कहा कि हम उनके अनुभवो का लाभ लेकर पर्यावरण की सुरक्षा में बड़ी हिस्सेदारी निभा सकते है ।

सहभागी समाज सेवी संस्था के अध्यक्ष श्री बसन्त यादव जी ने पर्यावरण सुरक्षा व साथ मे आजीविका को जोड़कर किस तरफ से लाख उत्पादन, टसर उत्पादन व जैविक खेती का कार्य कर रहे है। इसी प्रकार प्रेरक के निदेशक श्री रामगुलाम सिन्हा जी ने जैव विविधता व पारम्परिक बीजों के संरक्षण व संवर्धन के प्रयासों को रखा, डाक्टर पुरुषोत्तम चंद्राकर जी ने 230 एकड़ में फैले बिशाल गजराज बांध को बचाने के लिए किए जा रहे प्रयासों को साझा किया , श्रीमती मंजू देवांगन जी ने किचन वेस्ट से पुनः उपयोग कर किचन गार्डन कैसे तैयार किया है और उससे नियमित जैविक सब्जी ले रही है इस पर विस्तार से बातों को रखी, तेजस्विनी फाउंडेशन की अध्यक्ष श्रीमती ज्योति गुप्ता ने पुराने कपड़ों से थैला बनाकर प्लास्टिक मुक्त अभियान में सतत भागीदारी के बारे में अपने अनुभव साझा किए । कट्स इंटरनेशनल के अमित जी ने सतत उपभोग पर उनके द्वारा किए जा रहे अध्ययन को संक्षिप्त में साझा किया गया जिसमें अन्य राज्यों में किस तरह से शासन प्रयास कर रही है उन्हें साझा किया । प्रतिभागियों की ओर से सवाल जबाब भी किए गए जिनका जबाब अतिथियों द्वारा दिया गया । 

कार्यक्रम में राज्य के 10 जिलों से 50 स्वैच्छिक संस्थाओं के प्रतिनिधियों, शासन के अलग अलग विभाग के कर्मचारियों, छात्रों - छात्राओं व समुदाय के लोगों भाग लिया । 

कार्यक्रम में इस अभियान को नेटवर्क के माध्यम से पूरे छत्तीसगढ़ में संचालित करने का निर्णय लिया गया । कार्यक्रम का सुचारू रूप से संचालन ग्रीन एक्शन वीक के संयोजक श्री संजय शर्मा जी द्वारा किया गया तथा अभियान को सफल बनाने में प्रियंका डायरे, वैशाली डड़सेना, आरती मिश्रा व अंजू ने सराहनीय भूमिका निभाई । 

कट्स इंटरनेशनल द्वारा देश के 12 राज्यों में स्वैच्छिक संस्थाओं के साथ यह अभियान विगत 3 वर्षों से चलाया जा रहा है । 


आपका 

संजय शर्मा 

संयोजक

ग्रीन एक्शन वीक अभियान