‘गोधन न्याय योजना’ से ग्रामीण अर्थव्यवस्था होगी सुदृढ़ : मंत्री गुरू रूद्रकुमार

‘गोधन न्याय योजना’ से ग्रामीण अर्थव्यवस्था होगी सुदृढ़ : मंत्री गुरू रूद्रकुमार

०० पीएचई मंत्री ने किया ‘‘गोधन न्याय योजना’’ का शुभारंभ

०० सभी गांवों के हर घर में दिया जाएगा निःशुल्क नल कनेक्शन

रायपुर| लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी एवं ग्रामोद्योग मंत्री गुरू रूद्रकुमार ने हरेली तिहार के अवसर पर कांकेर जिले के चारामा विकासखंड के ग्राम खैरखेड़ा में पशुपालकों से गोबर क्रय कर ‘‘गोधन न्याय योजना’’ का शुभारंभ किया। इस अवसर पर ग्रामीणों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि इस योजना के क्रियान्वयन से ग्रामीण अर्थव्यवस्था सुदृढ़ होगी। इससे स्थानीय लोगों को रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे। इस अवसर पर उन्होंने ईमलीपारा में प्राथमिक विद्यालय के लिए भवन निर्माण तथा खैरखेड़ा गांव से गौठान तक पहुंच मार्ग और गौठान के चारो ओर तार फेंसिंग कराने की घोषणा की।


जिले के प्रभारी मंत्री गुरू रूद्रकुमार ने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार किसानों के हित में कार्य कर रही है। लोगों को गांव में ही रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने और खेती-किसानी एवं ग्रामोद्योग के माध्यम से ग्रामीणों को स्वावलंबी बनाने के लिए सरकार ने ‘‘गोधन न्याय योजना’’ की शुरूआत की है। उन्होंने कहा कि इस योजना से सभी गरीबों, किसानों, मजदूरों को संबल मिलेगा। गांव के पशुपालकों से गोबर खरीद कर वर्मी कम्पोस्ट तैयार की जाएगी। वर्मी कम्पोस्ट के उपयोग से फसल उत्पादन में वृद्धि होगी। मंत्री गुरू रूद्रकुमार ने कहा कि वर्ष 2023 तक छत्तीसगढ़ के सभी 20 हजार गांवों के 4 लाख 19 हजार परिवारों के घरों में निःशुल्क नल कनेक्शन प्रदाय किया जाएगा। खैरखेड़ा गौठान में ग्रामीणों द्वारा शेड बनाकर पारंपरिक रूप से बकरी एवं मुर्गी पालन, बत्तख पालन, कड़कनाथ मुर्गी पालन और मछली पालन का कार्य भी किया जा रहा है। पीएचई मंत्री ने गौठान में निर्मित बीज बैंक का भी अवलोकन किया। कलेक्टर के.एल. चौहान और जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने बताया कि कांकेर जिले में प्रथम चरण में निर्मित सभी 197 गौठानों में हरेली पर्व से ‘‘गोधन न्याय योजना’’ को शुरू किया गया है, जिसे द्वितीय चरण में बढ़ाकर सभी 454 ग्राम पंचायतों में प्रारंभ किया जाएगा। इस अवसर पर कृषि, उद्यानिकी, महिला एवं बाल विकास, रेशम विभाग और बिहान के महिला स्व-सहायता समूह द्वारा विभागीय योजना एवं गतिविधियों से संबंधित प्रदर्शनी भी लगाई गई। अवसर पर गौठान में जनप्रतिनिधियों द्वारा फलदार एवं छायादार पौधों का रोपण किया गया, गर्भवती माताओं को मुनगा पौधा एवं किसानों को कृषि उपकरण का वितरण किया गया। कार्यक्रम में जिला पंचायत सदस्य, जनपद अध्यक्ष, खैरखेड़ा के सरपंच, गौठान समिति के अध्यक्ष सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।