केन्द्रीय मंत्री तोमर ने भाजपा के 15 वर्ष के कार्यकाल को कांग्रेस के 15 माह से तुलना कर साबित कर दिया है कि उन्होंने कुछ नहीं किया - विकास उपाध्याय

केन्द्रीय मंत्री तोमर ने भाजपा के 15 वर्ष के कार्यकाल को कांग्रेस के 15 माह से तुलना कर साबित कर दिया है कि उन्होंने कुछ नहीं किया - विकास उपाध्याय

केन्द्रीय मंत्री तोमर ने भाजपा के 15 वर्ष के कार्यकाल को कांग्रेस के 15 माह से तुलना कर साबित कर दिया है कि उन्होंने कुछ नहीं किया - विकास उपाध्याय


कमलनाथ की कांग्रेस सरकार के 15 माह के विजन ने भाजपा के केन्द्रीय नेताओं को गली-गली भटकने मजबूर कर दिया


मुरैना- मुरैना के चुनाव प्रभारी छत्तीसगढ़ सरकार के संसदीय सचिव विकास उपाध्याय ने केन्द्रीय मंत्री तोमर के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि वे शिवराज सरकार के 15 साल के कार्यकाल की तुलना कमलनाथ सरकार के 15 महिने से कर साबित कर दिया है कि भाजपा ने 15 साल तक क्षेत्र की जनता के साथ विकास के नाम पर कितना धोखा दिया है। विकास उपाध्याय आज मुरैना के ग्रामीण अंचल के एक चुनावी सभा में कहा कि कमलनाथ की कांग्रेस सरकार ने अपने 15 माह के कार्यकाल ने भाजपा के शीर्ष नेताओं को किस कदर गली-गली भटकने मजबूर कर दिया है, यह बात पूरे क्षेत्र में देखी जा सकती है।


मुरैना के चुनाव प्रभारी विकास उपाध्याय ने एक चुनावी सभा के दौरान भारतीय जनता पार्टी पर हमला बोला है और केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि उन्हें यदि कमलनाथ सरकार के 15 महिने का कार्यकाल मध्यप्रदेश में पिछड़ा नजर आ रहा है तो वे शिवराज सरकार के 15 साल की उपलब्धी को जनता को क्यों नहीं बताते? विकास उपाध्याय ने तोमर द्वारा भाजपा को राष्ट्रभक्ति पार्टी कहे जाने पर भी तंज कसते हुए कहा जो पार्टी देश की धरोहर को एक के बाद एक बेचते जा रही है, उसके नेता अपने आप को राष्ट्रभक्ति कहकर पूरे देश का अपमान कर रहे हैं। विकास उपाध्याय ने कहा मुरैना में अब एक गाँव शेष नहीं बचा जो भाजपा समर्थक कहलाए। भाजपा के केन्द्रीय नेता ग्रामीणों के बीच इस तरह की बातें कर फिर से एक बार मतदाताओं को अपने झांसे में लेना चाहते हैं पर इस बार उन्हें सफलता नहीं मिलेगी।


विकास उपाध्याय आज मुरैना जिले के हड़वासी, जोरा खुर जैसे कई ग्रामीण अंचलों में दौरा कर भारी भीड़ से भरी चुनावी सभाओं को संबोधित करते हुए कहा, कमलनाथ की कांग्रेस सरकार अपने 15 माह के अल्प समयावधि में पूरे प्रदेश में विकास के वो विजन प्रस्तुत किया उससे घबराकर पहली बार भाजपा के शीर्ष नेता गली-गली वोट मांगने मजबूर हैं। विकास उपाध्याय ने यह भी आरोप लगाया कि भाजपा नेताओं को अब उनके नेता नरेन्द्र मोदी पर भी भरोसा नहीं रह गया है। यही वजह है कि इस चुनाव में उनकी सभा नहीं करवा रहे हैं। भाजपा नेताओं के चुनावी सगुफे अब जनता पर असर नहीं हो रही है। उन्होंने ग्रामीण मतदाताओं को भरोसा दिलाया कि कांग्रेस को जो जनादेश आपने दिया था उस जनादेश को बनाए रखें और जबतक प्रजातंत्र में परिवर्तन नहीं होगा क्षेत्र का विकास नहीं हो सकता। उन्होंने कहा मध्यप्रदेश का 90 प्रतिशत भू-भाग आज भी पृथक राज्य के बाद पूरी तरह से अविकसित है। भाजपा मध्यप्रदेश को भी बिहार जैसे राज्यों के समतुल्य पिछड़े व भूखमरी के कगार पर ला खड़ा कर दिया है, जिसे विकास के पथ पर ले जाने की जरूरत है। इसलिए कांग्रेस के हांथ जनादेश देना सिर्फ जनता के हांथ है और इस चुनाव में आप लोगों को साबित करना होगा।