बस्तर वन मंडल को मिला सागौन वन संबंध में प्रशिक्षण

बस्तर वन मंडल को मिला सागौन वन संबंध में प्रशिक्षण

बस्तर वन मंडल को मिला सागौन वन संबंध में प्रशिक्षण


पूरे जिले के सभी वन परिक्षेत्र अधिकारियों ने लिया भाग


पुरन बघेल की खास रिपोर्ट

 बस्तर-बस्तर जिले के सभी वन मंडल  के परीक्षेत्र में सागौन के वृक्ष की रखरखाव व उनको कीटों से बचाव का तरीका मध्यप्रदेश के जबलपुर से आई हुई टीम ने बताया ।वहीं एक्सपर्ट शालिनी गावटे ने बताया की सागौन की वृक्ष हमें अधिक से अधिक लगाने हेतु क्षेत्र के लोगों को प्रेरित करना है साथ ही सागौन वृक्ष का रखरखाव बेहतरीन होनी चाहिए अधिकतर अन्य वृक्षों के अपेक्षा सागौन के पेड़ को कीटों से ज्यादा नुकसान होता है छोटे पौधों में कीट का आक्रमण होने से पौधे का विकास नहीं हो पाता और और वृक्ष लंबा न होने का खतरा  बने रहता  है। वहीं शालिनी गांवटे ने यह भी बताया सागौन के साथ-साथ सभी तरह के महत्वपूर्ण और इमारती लकड़ियों को सुरक्षित रखने का कार्य हमारे विभाग का है प्रयास यह होना चाहिए कि जंगल में प्रचुर मात्रा में सागौन, साल ,बीजा जैसे पेड़ों की मौजूदगी होना अनिवार्य है।