अंतरराष्ट्रीय अग्रवाल सम्मेलन की 25 जुलाई को संपन्न हुई राष्ट्रीय कार्यसमिति की वर्चुवल बैठक

अंतरराष्ट्रीय अग्रवाल सम्मेलन की 25 जुलाई को संपन्न हुई राष्ट्रीय कार्यसमिति की वर्चुवल बैठक

अंतरराष्ट्रीय अग्रवाल सम्मेलन की 25 जुलाई को संपन्न हुई राष्ट्रीय कार्यसमिति की वर्चुवल बैठक 


आने वाले दिनों में दुनिया के अनेकों देशों में सम्मेलन के संगठन का होगा विस्तार- राजकुमार मित्तल अध्यक्ष कोलकाता


 शक्ति से संवाददाता कन्हैया गोयल की खबर 


शक्ति-अंतरराष्ट्रीय अग्रवाल सम्मेलन की राष्ट्रीय कार्यसमिति परिचय एवं संवाद की वर्चुअल बैठक का आयोजन 25 जुलाई को संपन्न हुआ,इस दौरान केंद्रीय मुख्यालय कोलकाता से आयोजित ऑनलाइन बैठक का संचालन अंतरराष्ट्रीय अग्रवाल सम्मेलन के अध्यक्ष राजकुमार मित्तल, महामंत्री प्रदीप कुमार सराफ एवं कोषाध्यक्ष गणेश भरतीया द्वारा किया गया, बैठक का शुभारंभ अग्र कुल प्रवर्तक भगवान अग्रसेन जी, भारत माता एवं कुलदेवी मां लक्ष्मी जी के तैल चित्र पर पूजा अर्चना तथा श्री अग्रसेन वंदना एवं वंदे मातरम गीत के साथ हुआ, बैठक को संबोधित करते हुए अध्यक्ष राजकुमार मित्तल ने कहा कि आज अंतरराष्ट्रीय अग्रवाल सम्मेलन का परिवार भारत नहीं अपितु विश्व के अनेकों देशों में पहुंच चुका है, तथा हम सभी को इसी तरह से संगठन को मजबूत बनाने की दिशा में सतत अपना योगदान देते हुए कार्य करना है, तथा श्री मित्तल ने सम्मेलन द्वारा एक ईंट एक रुपया एवं विभिन्न स्थाई प्रकल्पओं के बारे में भी जानकारी देते हुए संगठनात्मक विषयों पर विस्तार पूर्वक चर्चा की, तथा बैठक के दौरान राष्ट्रीय महामंत्री प्रदीप कुमार सराफ एवं राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष गणेश भरतिया ने भी अपना प्रतिवेदन प्रस्तुत किया जिस पर सभासदों ने करतल ध्वनि के साथ इसे स्वीकृति दी, एवं बैठक में एक ईंट एक रुपया ,मेट्रो मेनेरियल तथा सदस्यता वृद्धि अभियान के संयोजक गण अजयकांत गर्ग मथुरा, रमेश लोहिया गुजरात, अग्र ज्योति की  संपादक श्रीमती उषा केडिया  मैसूर,राष्ट्रीय संगठन मंत्री श्रीमती मनीषा मित्तल, उपाध्यक्ष श्रीमती मीना गोयल ने भी अपना उद्बोधन देते हुए संगठन विस्तार की दिशा में सभी को सहयोग करने का आग्रह किया, बैठक के दौरान सम्मेलन के प्रांतीय अध्यक्ष एवं संयोजक गणों में देवेंद्र अग्रवाल दिल्ली, विनोद गुप्ता हरियाणा, अनुराग मित्तल मथुरा, रमेश लोहिया गुजरात, श्रीमती मनीषा अग्रवाल गुजरात, श्रीमती अंशु अग्रवाल मैसूर कर्नाटक, संजीव अग्रवाल चेन्नई,श्रीमती आरती रामगढ़िया चेन्नई, रामचरण बंसल महाराष्ट्र नागपुर,सुनील रामदास छत्तीसगढ़,डॉ श्रीमती अनीता अग्रवाल छत्तीसगढ़, अमित चौधरी छत्तीसगढ़, श्रीमती उमा बंसल छत्तीसगढ़, श्रीमती संतोषी चौधरी कटक उड़ीसा, श्रीमती पूनम अग्रवाल नागपुर ,श्रीमती अनीता अग्रवाल नागपुर,ओमप्रकाश अग्रवाल जयपुर राजस्थान, पवन अग्रवाल जयपुर राजस्थान,किशोर धनावत रायपुर, विमल मुरारका,विनोद जालान सिलीगुड़ी, श्रीमती कृष्णा भिवानीवाला,श्रीमत्ती शकुंतला सराओगी,पीडी अग्रवाल, श्रीमती शशि पोद्दार, श्री राम अग्रवाल,श्रवण देबूका, श्रीमती प्रेमलता गोयल अंबिकापुर, श्रीमती सुलोचना धनावत रायपुर, श्रीमती भगवती अग्रवाल कोरबा, सहित अनेकों पदाधिकारियों ने अपनी प्रांतीय इकाइयों सहित स्थानीय स्तर पर संपादित कार्यों का प्रतिवेदन प्रस्तुत किया एवं सम्मेलन के संगठन को मजबूत बनाने की दिशा में अपने सुझाव भी प्रस्तुत किए, बैठक के दौरान लगभग 200 की संख्या में अंतरराष्ट्रीय अग्रवाल सम्मेलन के सदस्य शामिल हुए,जिसमें सभी ने खुले सत्र में अपने सुझाव देते हुए अपनी बातें रखी, साथ ही बैठक में प्रमुख रूप से हांगकांग से सोहनलाल गोयंका, जयप्रकाश गोयल, सिंगापुर से श्रीमती विदेह नंदनी चौधरी, बैंकॉक से नरेश अग्रवाल, टोरंटो से श्रीमती कामना गर्ग, नार्थ अमेरिका से महेश चौधरी, कुवैत से श्री गौरव श्वेता डोकानिया, नेपाल से देवेंद्र अग्रवाल, विनोद अग्रवाल सहित काफी संख्या में सदस्य शामिल हुए थे, एवं बैठक के दौरान अंतरराष्ट्रीय अग्रवाल सम्मेलन की महिला एवं युवा इकाई के संगठन को भी प्रत्येक राज्यों में मजबूत बनाने की दिशा में चर्चा की गई तथा कोविड-19 काल के दौरान दिवंगत जनों के प्रति अंतरराष्ट्रीय अग्रवाल सम्मेलन परिवार द्वारा 2 मिनट का मौन धारण कर श्रद्धांजलि अर्पित की गई एवं आगामी बैठक में विस्तार पूर्वक संगठन गतिविधियों के बारे में चर्चा करने का निर्णय लिया गया एवं 25 जुलाई को संपन्न अंतरराष्ट्रीय अग्रवाल सम्मेलन की वर्चुअल बैठक में सदस्यों का काफी उत्साह देखा गया एवं भारत सहित दुनिया के विभिन्न देशों के प्रतिनिधियों ने इस बैठक में शामिल होकर अपनी भागीदारी करी, जिसका आभार प्रदर्शन कोषाध्यक्ष गणेश भरतियां ने करते हुए सभी सदस्यों की सक्रियता के लिए उनका साधुवाद ज्ञापित किया एवं बैठक का मंच संचालन उत्तर प्रदेश के मथुरा शहर की डॉ श्रीमती सपना बंसल ने करते हुए विस्तारपूर्वक संगठन पर प्रकाश डाला एवं बैठक को सफल बनाने में अंतरराष्ट्रीय अग्रवाल सम्मेलन के सभी केंद्रीय पदाधिकारी, विभिन्न प्रांतों के पदाधिकारी, सदस्यों का सराहनीय योगदान रहा।