लॉक डाउन में इजहार, अगस्त में शादी , अक्टूबर में मर्ड

लॉक डाउन में इजहार, अगस्त में शादी , अक्टूबर में मर्ड

लॉक डाउन में इजहार, अगस्त में शादी , अक्टूबर में मर्ड

इंदौर- मध्यप्रदेश के इंदौर से रिश्तों को तार-तार करने वाली एक खबर सामने आयी है। यहां कोविड 19 लॉकडाउन के दौरान युवक और युवती के बीच दोस्ती हुई, फिर अगस्त के माह में शादी हो गई। इसके बाद अक्टूबर का महीना आते-आते दोनों में झगड़े की स्थिति बनने लगी। मंगलवार की रात दोनों में विवाद इतना बढ़ गया कि पति ने खुद पत्नी की कथित तौर पर हत्या कर दी और सरेंडर करने थाने पहुंच गया।


समाचार वेबसाइट आजतक डॉट इन की एक रिपोर्ट के मुताबिक यह मामला इंदौर के जावरा कंपाउंड का है जो संयोगितागंज थाना क्षेत्र के तहत आता है जहां पति ने अपनी पत्नी (22 वर्षीय) से झगड़ा बढ़ने के बाद कथित तौर पर कुत्ते की जंजीर से उसका गला दबाकर हत्या करने की कोशिश लेकिन वह इसमें सफल नहीं हो पाया तो उसने किचन का चाकू निकालकर पत्नी की हत्या कर दी। इसके बाद वह खुद ही संयोगितागंज थाने पहुंच गया।


रिपोर्ट के मुताबिक मृतक महिला अंशु के परिजन अब उसके पति और ससुराल वालों पर इसका आरोप लगा रहे हैं। उनका कहना है कि पुलिस ससुराल वालों के दबाव में आकर ठीक से कार्रवाई नहीं कर रही है।


मृतका अंशु कालिंदी गोल्ड की रहने वाली है, शादी से एक माह पहले तक आरोपी पति हर्ष शर्मा की कंपनी में काम करती थीं। इस दौरान ही दोनों में प्यार हुआ और अगस्त के माह में दोनों ने आर्य समाज मंदिर में शादी कर ली। इसके बाद वह अपने पति के साथ जावरा कंपाउंड में उनके घर में रह रही थीं।


खबर के मुताबिक संयोगितागंज पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए एम.वाय. हॉस्पिटल भेजा है। पुलिस इस मामले की जांच कर रही हैं और इसमें अन्य एंगल की भी जांच कर रही है।