वर्मी कम्पोस्ट खाद कृषि भूमि के लिए च्यवनप्राश है

वर्मी कम्पोस्ट खाद कृषि भूमि के लिए च्यवनप्राश है

वर्मी कम्पोस्ट खाद कृषि भूमि के लिए च्यवनप्राश है  ।

आदिवासी अंचल मे महिला समूह वर्मी खाद बनाने मे ब्यस्त 


विशेष प्रतिनिधि नरेन्द्र तिवारी

छुरा ।आदिवासी विकास खंण्ड छुरा क्षेत्र के अनेकों गांवो के महिला समूहों ने कोरोना काल मे गांव के गोठानो पर वर्मी कम्पोस्ट खाद बनाने के काम मे लगी हुई है , महिलाओं ने खाद की विस्तृत जानकारी लेकर क्षेत्र के कृषकों को रसायनिक खाद से छुटकारा दिलाने के लिए लोगों को जागरूक करने मे लगे हुये है साथ ही समुह की महिलाओं ने शपथ भी लिया हे कि अब अपने खेतो मे फर्टिलाइजर रासायनिक उर्वरकों का उपयोग नही करेगें , वर्मी कम्पोस्ट खाद का उपयोग करेगे और गांवो के कृषको भी वर्मी कम्पोस्ट खाद समूह द्वारा विक्रय किया जायेगा , छुरा ब्लाक के ग्राम पंचायत सिवनी  के सरपंच प्रीतम ध्रुव  ने जानकारी देते हुए बताए कि गौठान में वर्मी कंपोस्ट खाद बनाया जा रहा है जो कि महिला  समूह  के द्वारा यह  कार्य किया जा रहा है । बता दे कि  वर्मीकम्पोस्ट  पोषण पदार्थों से भरपूर एक उत्तम जैव उर्वरक है। यह केंचुआ आदि कीड़ों के द्वारा वनस्पतियों एवं भोजन के कचरे आदि को विघटित करके बनाई जाती है।  वर्मी कम्पोस्ट में बदबू नहीं होती है और मक्खी एवं मच्छर नहीं बढ़ते है तथा वातावरण प्रदूषित नहीं होता है। तापमान नियंत्रित रहने से जीवाणु क्रियाशील तथा सक्रिय रहते हैं।


 केचुआ(वर्मी कम्पोस्ट) खाद के लाभ

यह खाद केवल नाइट्रोजन और कार्बनिक पदार्थो की ही आपूर्ति नही करती है बल्कि इससे भूमि को कई पोषक तत्व भी प्राप्त होते है| इसे प्राप्त होने वाले पदार्थ इस प्रकार है नाइट्रोजन, गंधक, स्फुर, पोटाश, मैग्नीशियम, कैल्शियम, तांबा, लोहा और जस्ता इत्यादि|


इसके उपयोग से भूमि में सूक्ष्मजीवों की संख्या और क्रियाशीलता बढ़ती है, तथा मिट्टी की उर्वरा शक्ति व उत्पादन क्षमता में भी बढ़ोतरी देखने को मिलती है|


केचुआ खाद के प्रयोग से मिट्टी नरम होती है, हवा का संचार होता है, जल धारण क्षमता में वृद्धि, खट्टापन व लवणता में सुधार तथा मिट्टी क्षय में भी सुधार आता है|


भूमि को को इस खाद से मृदा जनित रोगों से भी छुटकारा मिलता है|


किसानों के लिए कम लागत में अधिक फायदा हो सकता है, स्वास्थ और पर्यावरण में भी सुधार होता है|

यह खरपतवारों की वृद्धि रोकने मे भी सहायक हैं|