विवेकानंद स्कूल से आकांक्षा गुप्ता ने 87.6 % हासिल की, अब डॉक्टर बनने का सपना संजोयी

विवेकानंद स्कूल से आकांक्षा गुप्ता ने 87.6 % हासिल की, अब  डॉक्टर बनने का सपना संजोयी

विवेकानंद स्कूल से आकांक्षा गुप्ता ने 87.6 % हासिल की, अब  डॉक्टर बनने का सपना संजोयी


विकाश कुमार गुप्ता /भैयाथान-छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल ने 12th का परिणाम आज घोषित किया गया जिसमें विवेकानंद स्कूल अम्बिकापुर की होनहार छात्रा कु.आकांक्षा गुप्ता ने 87.6% अंक हासिल कर स्कूल का गौरवान्वित साबित हुई । आकांक्षा गुप्ता का कहना है कि मेरी इक्षा डॉक्टर बन लोगो की सेवा करने की है एवं अपने गांव माता पिता और शिक्षकों का नाम रोशन करना चाहती हु । मैंने जितनी उम्मीद की थी उससे कम अंक आने से काफी दुःखी हु , इस परीक्षा की रिज़ल्ट से मैं खुश नही हु क्योंकि जो बच्चे काफी कमजोर थे वो बच्चे हमसे भी ज्यादा अंक साहिल किये हैं अगर मुख्य परीक्षा लिया गया होता तो मेरी और राज्य का परिणाम कुछ और होती । मेरी तैयारी neet पर होगी  और डॉक्टर बन कर लोगो की हर सम्भव मदद करूंगी । 


वही स्वेता गुप्ता ने  गर्ल्स स्कूल अम्बिकापुर से 88%अंक हासिल कर  अपनी अंको से सन्तुष्ट है 


 स्वेता ने इस कामयाबी को माँ पापा और शिक्षकों की दिशानिर्देश का नतीजा है मैं उन्हें  धन्यवाद देती हु और कहा कि मैं बैंकिंग की तैयारी कर माँ पापा की सपनो को साकार करना चाहती हु । स्वेता ने कहा कि , मेरे पापा को बैंकिंग की नौकरी पसन्द है जिसे पूरा करना मेरा लक्ष्य है । मैं बैंकिंग की पढ़ाई कर पापा को बिग तोहफा देने मेरी सपना बन गया ।


सुभागी देवांगन शिक्षक बनना चाहती हैं


गरीब परिवार से आने वाली सुभंगी देवांगन ने हायर सेकंडरी स्कूल दर्रीपारा में 85.5 % हासिल कर स्कूल सान बढाई  माँ , पापा ने कहा कि घर की आर्थिक स्थिति कमजोर होने के बावजूद भी सुभागी ने अपनी हौसलों को बुलंद रखते हुए दुसरो से बुक लेकर अपनी शिक्षा ग्रहण  की और 85.5% हासिल कर हमारी और अपने स्कूल का नाम बढ़ाया है । सुभांगी आगे जाकर शिक्षक बनना चाहती हैं ।