गरियाबंद पुलिस की सक्रियता से महज़ 1 या 2 घंटे की भीतर हत्या के तीनों आरोपी को किया गया गिरफ्तार-हत्या का कारण यह बात बताई जा रही

गरियाबंद पुलिस की सक्रियता से महज़ 1 या 2 घंटे की भीतर हत्या के तीनों आरोपी को किया गया गिरफ्तार-हत्या का कारण यह बात बताई जा रही

गरियाबंद पुलिस की सक्रियता से महज़ 1 या 2 घंटे की भीतर हत्या के तीनों आरोपी को किया गया गिरफ्तार-हत्या का कारण यह बात बताई जा रही 





गरियाबंद/फिंगेश्वर- मामला फिंगेश्वर थाने के बोरीद नदी मोड़ की है । जानकारी के अनुसार पैसे की लेन देन को लेकर मछली व्यापारी के दुकान के पास युवक पर डंडा से हमला कर दिया गया। जिससे युवक गंभीर रूप से घायल हो गया व फिंगेश्वर हॉस्पिटल पहुँचने तक उसकी मौत हो गई, 


घटना की गंभीरता को देखते हुए गरियाबंद पुलिस अधीक्षक श्रीमती पारुल माथुर के द्वारा थाना प्रभारी फिंगेश्वर को मामले में संलिप्त आरोपी को पकड़ने के लिए हिदायत वरिष्ठ अधिकारी के निर्देशन में थाना प्रभारी फिंगेश्वर के द्वारा तत्काल टीम गठित महज 1 से 2 घंटे में तीनों आरोपियों को गिरफ्तार किए।



युवक ग्राम सोरिद का है, जो वर्तमान में महासमुंद में रह रहा था।  जो संदीप चंद्राकर  के रूप में मृतक की पुष्टि की गई है। सूखा नदी के पास स्थित मछ्ली मार्केट फिंगेश्वर में यह वारदात आज पूर्वाह्न करीब साढ़े 11 बजे हुई। प्रत्यक्षदर्षियों के अनुसार मछली के कारोबार के सिलसिले में यहां आए कुछ कारोबारी से संदीप का किसी बात को लेकर विवाद हुआ। विवाद देखते ही देखते झगड़ा में तब्दील हो गया। झगड़ा बढ़ा तो मछली कारोबारियों ने मछली काटने के धारदार हथियार से संदीप पर वार कर दिया। जिससे वह लहूलुहान होकर गिर पड़ा। उसे तत्काल अस्पताल पहुंचाया गया। जहाँ चिकित्सकों ने संदीप को मृत घोषित कर दिया। फिंगेश्वर थाना में आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई। सरेआम कत्लेआम की घटना से स्थानीय निवासी वव्यापारी सकते मे मृतक संदीप करीब 35-40 वर्ष का था। वर्तमान में मुक्तिधाम मार्ग महासमुन्द में रह रहे थे। वे मूलतः ग्राम सोरिद के रहने वाले हैं। खेती के साथ-साथ मछली का भी कारोबार संदीप करते थे, ऐसा पारिवारिक सूत्रों का कहना है। ऐसा अंदेशा है कि मछली के रुपये की लेनदेन को लेकर विवाद होने पर  कारोबार से जुड़े युवकों ने आक्रोशित होकर सरेआम कत्लेआम की घटना को अंजाम दे डाला। मछली के रुपये की लेनदेन को लेकर विवाद होने पर  कारोबार से जुड़े युवकों ने आक्रोशित होकर सरेआम कत्लेआम की घटना को अंजाम दे डाला। अब इस पूरे मामले में फिंगेश्वर पुलिस जांच में जुटी और तीनो आरोपियों को गिरफ्तार किया। तीनो आरोपी पिपरौद गोबरा नवापारा निवासी जिसमे नरहरी राजवंशी पिता सुखदेव राजवंशी 41 वर्ष,राहुल राजवंसी पिता नरहरी राजवंशी 19 वर्ष,हरिश्चंद दास पिता गौरांग दास 19 वर्ष तीनो आरोपियों के खिलाफ  अपराध क्र 191/2021 धारा 302,294,43 भा,दा वी के तहत कार्यवाही कर न्यायालय मे पेश किया ।