इस विधायक से गुजराती समाज में खासा आक्रोश-किये माफी की मांग

इस विधायक से  गुजराती समाज  में खासा आक्रोश-किये माफी की मांग

गरियाबंद  गरियाबंद गुजराती समाज के अध्यक्ष अमित वखारिया ने बताया कि सत्ता में आने के बाद से छत्तीसगढ़ कांग्रेस सरकार के नेता और विधायक सत्ता के नशे में इस कदर चूर हैं कि वह सामाजिक द्वेष फ़ैलाने का प्रयास कर रहें हैं ।  और जातिवाद कि राजनीति कर रहे हैं। । उन्होंने कहा कि  जिला पंचायत से विधायक की कुर्सी पर सवार होने के बाद कसडोल विधायक शकुंतला साहू ने जिस प्रकार सोशल मिडिया में गुजराती समाज की उपेक्षा की है वह निंदनीय है जिससे गुजराती समाज आक्रोशित है और शकुंतला साहू को अपने इस बयान पर पूरे समाज के लोगों से माफ़ी मांगनी होगी।



अमित वाखारिया  ने कहा कि किसी एक समाज विशेष का अपमान करते हुए सोशल मिडिया में इस प्रकार के बयान जारी करना उनकी असंवेदनशीलता को दिखाता है। वे एक जनप्रतिनिधि हैं और उन्हें इस प्रकार किसी सामाजिक भावना को ठेंस पहुँचाना शोभा नहीं देता। मैं उनके द्वारा अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखे बयान “गुजराती है उसके खून में व्यापार हैं देश को तो बेचकर ही मानेगा।“ के खिलाफ पूरे गुजराती समाज की ओर से विधायक शकुंतला साहू द्वारा अपने बयान का खंडन करने और समाज के लोगों से माफ़ी मांगने की मांग करता हूँ और यदि वह ऐसा नहीं करती हैं तो उनके खिलाफ पुलिस थाने में सामाजिक भावनाओं को आहत करने और अपमानित करने के खिलाफ पूरे प्रदेश में गुजराती समाज के सदस्यों द्वारा शिकायत दर्ज कराई जाएगी।