16 हजार 796 निवेशकों को 7 करोड़ 32 लाख 95 हजार 528 रूपए की राशि मिली

 16 हजार 796 निवेशकों को 7 करोड़ 32 लाख 95 हजार 528 रूपए की राशि मिली


शासन-प्रशासन के प्रयासों से चिटफंड कंपनी याल्स्को रियल स्टेट एण्ड एग्रो फार्मिंग लिमिटेड के छत्तीसगढ़, बिहार, मध्यप्रदेश, ओडि़सा एवं महाराष्ट्र के 16 हजार 796 निवेशकों को 7 करोड़ 32 लाख 95 हजार 528 रूपए की राशि मिली

----------------------------------------------------------------

ब्यूरो-प्रदेश में चिटफंड कंपनी की धोखाधड़ी से लोगों के वर्षों की कमाई डूब गई थी। जिसे शासन एवं प्रशासन के प्रयासों से नागरिकों को वापस करने के लिए कार्य किया गया। चिटफंड कंपनी की संपत्ति कुर्क कर निवेशकों को वापस राशि दी गई। कलेक्टर श्री टोपेश्वर वर्मा एवं पुलिस अधीक्षक श्री डी श्रवण के प्रयासों से यह संभव हो सका।

चिटफंड कंपनी याल्स्को रियल स्टेट एण्ड एग्रो फार्मिंग लिमिटेड के छत्तीसगढ़, बिहार, मध्यप्रदेश, ओडि़सा एवं महाराष्ट्र के 16 हजार 796 निवेशकों को 7 करोड़ 32 लाख 95 हजार 528 रूपए की राशि एनईएफटी के माध्यम से मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने उनके खाते में अंतरित की। राजनांदगांव जिले के 1143 निवेशकों को 61 लाख 59 हजार 444 रूपए की राशि प्राप्त हुई।

उल्लेखनीय है कि जिले में कंपनी व कंपनी के डायरेक्टरों के स्वामित्व की कुल 292.36 एकड़ अचल सम्पत्ति को कुर्क कर अंतरिम आदेश प्राप्त कर विशेष न्यायधीश के समक्ष प्रस्तुत किया गया। कुर्क संपत्तियों की नीलामी से 8 करोड़ 15 लाख 34 हजार 345 रूपए प्राप्त हुए। तहसील राजनांदगांव एवं छुरिया के एक-एक संपत्ति की नीलामी की कार्रवाई पूर्व में बाजार मूल्य के बराबर बोली नहीं आने व एक आपत्ति के कारण शेष है। उन्होंने बताया कि कंपनी के निवेशकों से दावा-आपत्ति प्राप्त की गई थी, जिसमें कुल 17 हजार 171 निवेशकों के द्वारा कुल 24 करोड़ 75 लाख 47 हजार 337 रूपए का दावा प्राप्त हुआ। आवेदनों की समीक्षा करने पर कुल 16 हजार 796 निवेशकों द्वारा पूर्ण जानकारी के साथ दावा पेश किया गया। चूकि वर्तमान में संपत्तियों से नीलामी से प्राप्त राशि, दावा राशि का केवल एक तिहाई है। जिला स्तरीय 5 सदस्य समिति द्वारा वर्तमान में कुल 16 हजार 796 निवेशकों को 30 प्रतिशत 7 करोड़ 32 लाख 95 हजार 528 रूपए की राशि लौटाए जाने का निर्णय लिया गया। निवेशकों में 197 ओडि़सा, 2971 महाराष्ट्र, 42 मध्यप्रदेश, 13586 छत्तीसगढ़ के विभिन्न जिलों के हैं।

उल्लेखनीय है कि आज बालोद जिले के 3761 निवेशकों के 1 करोड़ 45 लाख 58 हजार 521 रूपए, बलौदाबाजार जिले के 497 निवेशकों के 22 लाख 91 हजार 450 रूपए, बेमेतरा जिले के 45 निवेशकों के 3 लाख 94 हजार 14 रूपए, बिलासपुर-बीजापुर जिले के 5 निवेशकों के 3 लाख 16 हजार 626 रूपए, जगदलपुर-दंतेवाड़ा के 10 निवेशकों के 84 हजार 594 रूपए, धमतरी जिले के 1366 निवेशकों के 52 लाख 97 हजार 982 रूपए, दुर्ग जिले के 1835 निवेशकों के 90 लाख 81 हजार 987 रूपए, गरियाबंद जिले के 148 निवेशकों के 4 लाख 78 हजार 143 रूपए, जांजगीर-चांपा जिले के 48 निवेशकों के 1 लाख 43 हजार 932 रूपए, कबीरधाम जिले के 28 निवेशकों के 1 लाख 74 हजार 504 रूपए, कांकेर जिले के 2445 निवेशकों के 83 लाख 61 हजार 650 रूपए, कोडागांव जिले के 573 निवेशकों के 12 लाख 83 हजार 712 रूपए, कोरबा-मुंगेली-नारायणपुर जिले के 9 निवेशकों के 2 लाख 2 हजार 917 रूपए, रायपुर जिले के 1616 निवेशकों के 72 लाख 53 हजार 562 रूपए, महासमुंद जिले के 431 निवेशकों के 19 लाख 20 हजार 210 रूपए की राशि दी गई।