जिस स्कूल में पढ़े उसी स्कूल में चोरी की घटना को दिया अंजाम

 जिस स्कूल में पढ़े उसी स्कूल में चोरी की घटना को दिया अंजाम


मस्तूरी पुलिस ने दो साल पूर्व हुए चोरी का किया खुलासा, गिरफ्तार आरोपियों से जब्त किए 2. 50 लाख रुपये की सम्पत्ति 


मस्तूरी क्षेत्र के ग्राम एरमसाही में दो साल पहले शासकीय स्कूल से कुछ अज्ञात चोरों ने कम्प्यूटर कक्ष का ताला तोड़कर 2.50 लाख का सामान पार कर दिया था।

पूरा मामला इस प्रकार है प्रार्थी ने दो साल पहले 26 फरवरी 2018 को मस्तूरी थाना में चोरी की रिपोर्ट दर्ज कराई। ग्राम पंचायत एरमसाही के शासकीय उच्च. माध्य. शाला एरमसाही में कुछ अज्ञात चोर ने कम्प्यूटर कक्ष का ताला तोड़कर वहां रखे तीन सिपीयू, एक यूपीएस, सात मॉनिटर, एक प्रिंटर, एक एलसीडी टीवी, चार माउस, दो स्पीकर को चुरा ले गए। जिसपर मस्तूरी पुलिस ने अपराध कायम कर लिया था। लगातार प्रयास और दो साल बीत जाने के बाद भी आरोपी पुलिस पकड़ से बाहर थे। इस मामले को बिलासपुर पुलिस अधीक्षक ने दुबारा मस्तूरी पुलिस को निर्देश दिया। तब सीएसपी निमिषा पांडेय द्वारा मस्तूरी थाना प्रभारी के नेतृत्व में टीम बना कर पुनः से जांच प्राम्भ किये गए। सीसीटीवी फुटेज और संदेहियों के हुलिए के आधार पर लगातार आरोपियों की पतासाजी कर रही थी। तभी एक संदेही की हरकतों पर पुलिस को शक हुआ तब पुलिस टीम द्वारा उसको ट्रेस कर उसकी गतिविधियों पर नजर रखा गया। संदेह का अंदेशा सच लगते ही पुलिस ने युवक को थाना लाकर पूछताछ शुरू की। तब युवक पुलिस को गुमराह करता रहा। किंतु जब कड़ाई से पूछताछ किया गया तब वह चोरी करना स्वीकार किया। इसके साथ ही उसने अन्य साथियों के बारे में भी बताया। जिससे एक और आरोपी को हिरासत में लिया गया। वही तीसरा आरोपी अभी भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। संदेही युवक ने अपना नाम टीकम चंद खाण्डेकर पिता मोहन लाल 23 वर्ष ग्राम एरमसाही बताया वही अन्य साथियों के भी नाम बताए। दूसरा आरोपी दिलचन्द खांडे पिता राम खिलावन खांडे 19 वर्ष ग्राम एरमसाही और तीसरा फरार आरोपी विष्णु मिरी पिता भगीरथी मिरी 24 वर्ष ग्राम एरमसाही बताया। जुर्म स्वीकारने पर आरोपी ने यह भी बताया कि वह उसी स्कूल में शिक्षा ग्रहण किया था जहां उसने दो साल पहले चोरी की थी। इसके साथ ही आरोपियों के निशानदेही पर अलग अलग जगह से सिपीयू एक, दो यूपीएस, मॉनिटर तीन, की बोर्ड दो, स्पीकर तीन, माउस तीन, डाटाकेबल तीन, एलईडी टीवी 32 इंच एक कुल कीमती 2.50 लाख रुपये का समान जब्त किया गया। मस्तूरी पुलिस ने आरोपियों पर अपराध क्र.  65/2018 धारा 457,380,34 भादवी का मामला बना कर दो आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा जहाँ से उन्हें जेल भेज दिया गया। वही तीसरे आरोपी की अभी भी पतासाजी जारी है। मस्तूरी थाना प्रभारी फैजुल शाह के नेतृत्व में मस्तूरी पुलिस की टीम ने दो साल पहले चोरी हुए प्रकरण को सुलझाने में सफल रहे।