भूपेश बघेल गरीब,पिछड़ो व किसानों के लिए मसीहा के रूप में कार्य कर रहे है- राजीव ठाकुर

भूपेश बघेल गरीब,पिछड़ो व किसानों के लिए मसीहा के रूप में कार्य कर रहे है- राजीव ठाकुर

*भूपेश बघेल गरीब,पिछड़ो व किसानों के लिए मसीहा के रूप में कार्य कर रहे है- राजीव ठाकुर           

 



छुरा:- मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा छत्तीसगढ़ का प्रस्तुत बजट का स्वागत करते हुए ब्लॉक कांग्रेस कमेटी छुरा के अध्यक्ष राजीव ठाकुर ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल छत्तीसगढ़ के किसानों के लिए वरदान शांति के दूत की तरह गरीब, पिछड़ों, दलितों व किसानों के मसीहा के रूप में कामकर रहे हैं। चाहे देश की या प्रदेश की जनता की बात करें तो बड़ी संख्या किसानों की है और किसानों की आमदनी की जरिया खेती है और खेती की पैदावार जितनी बढ़ेगी उतने ही दूसरे धंधे बढ़ेंगे और देश-विदेश संपन्न होगा। राजीव ठाकुर ने कहा कि कृषि को मजबूत करने ग्रामीण क्षेत्र में अर्थव्यवस्था सुदृढ़ को इस बात को विशेष ध्यान में रखते हुए इस बजट में कृषको, श्रमिकों, महिलाओं के हित में विशेष प्रावधान रखा गया है। कृषकों को नगद आमदनी हो जिसके लिए धान फसल उत्पादन के अतिरिक्त फल, फूल, सब्जी की खेती उद्यानिकी फसलों के लिए 485 करोड़ का प्रावधान रखा गया है। इसी तरह से मत्स्य संपदा योजना के तहत अपनी स्वयं की भूमि पर तालाब निर्माण कर मछली पालन के लिए 79 करोड प्रावधान किया है। ठाकुर ने आगे कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मत्स्य पालन को कृषि का दर्जा दिए जाने का प्रावधान किए हैं जिसके 171 करोड़ 20 लाख बजट में रखा गया है।ग्रामीण व्यवसायिक को गति देने के लिए तेलघानी बोर्ड,चर्म शिल्पकार बोर्ड, लौह विकास बोर्ड की स्थापना की जाएगी। कृषक समग्र विकास योजना के लिए 81 करोड़ का प्रावधान के साथ ज्योति योजना के अंतर्गत निशुल्क विद्युत पम्प प्रदाय करने 2500 करोड़ का प्रावधान है जिससे करीब पांच लाख किसान लाभान्वित होंगे। पिछले कुछ समय से लोगों का खेती और पशुपालन के प्रति रुझान कम होने लगा था लेकिन अब किसान हितैषी छत्तीसगढ़ सरकार मंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में ग्रामीण मजबूती के लिए ग्राम सुराजी योजना प्रारंभ की है इससे अब गांव की तस्वीर बदली है और लोगों में खेती किसानी को लेकर फिर से दिलचस्पी बढ़ी है।*

इस जन हितैषी बजट के लिए राजीव ठाकुर ने मुख्मंत्री भूपेश बघेल व प्रथम पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री , राजिम विधायक अमितेश शुक्ल के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया है।