आधार बीजों का उत्पादन लागत घटाने और उत्पादन बढ़ाने पर जोर-बीज निगम के अध्यक्ष अग्नि चंद्राकर और सदस्यों ने पोखरा प्रक्षेत्र का किया इंस्पेक्शन

आधार बीजों का उत्पादन लागत घटाने और उत्पादन बढ़ाने पर जोर-बीज निगम के अध्यक्ष अग्नि चंद्राकर और सदस्यों ने पोखरा प्रक्षेत्र का किया इंस्पेक्शन

आधार बीजों का उत्पादन लागत घटाने और उत्पादन बढ़ाने पर जोर-बीज निगम के अध्यक्ष अग्नि चंद्राकर और सदस्यों ने पोखरा प्रक्षेत्र का किया इंस्पेक्शन


गरियाबंद-छत्तीसगढ़ राज्य बीज एवं कृषि विकास निगम के अध्यक्ष अग्नि चंद्राकर ने निगम के संचालक मंडल के सदस्य शंकर बघेल, जालम सिंह पटेल एवं दिलीप पाण्डेय व बीज उत्पादक कृषकों के साथ गरियाबंद जिला स्थित निगम के पोखरा राजिम प्रक्षेत्र का इंस्पेक्शन किया। साथ ही शासकीय संजय निकुंज उद्यान पोखरा रोपणी का भी जायजा लिया। 

उन्होंने उन खेतों का जायजा लिया जहां आधार बीज का उत्पादन किया जा रहा है। वर्तमान में प्रदेश में नवीन किस्मों को बढ़ावा देने हेतु धान किस्म एम.टी.यू.-1156 एवं जिंक राईस का उत्पादन कार्यक्रम लिया गया है। उन्होंने उक्त फसलों का अवलोकन किया और फसल की अच्छी स्थिति को देखकर सराहना की। निगम अध्यक्ष श्री चंद्राकर ने प्रक्षेत्र की समीक्षा बैठक भी ली, जिसमें उत्पादन लागत कम करने और उत्पादन बढ़ाने पर जोर दिया। 

इस दौरान बीज उत्पादक कृषक द्वारिका साहू, संजय चंद्राकर, दीपक चंद्राकर, प्रभात चंद्राकर, श्रवण चंद्राकर, भूषण लाल वर्मा 

आदि ने प्रक्षेत्र के साथ साथ समूचे निगम और निगम से जुड़े बीज उत्पादक किसानों की बेहतरी के लिए महत्त्वपूर्ण सुझाव दिए। 

प्रक्षेत्र प्रबंधक इन्द्रकुमार जायसवाल ने अध्यक्ष एवं संचालक मंडल के सदस्यों को प्रक्षेत्र पोखरा की मूलभूत जानकारी से अवगत कराया कि प्रक्षेत्र पोखरा  173.540 हेक्टेयर रकबे में फैला हुआ है। वर्तमान खरीफ 2021 में प्रक्षेत्र पोखरा में 75 हेक्टेयर रकबे में प्रजनक से आधार धान बीज का उत्पादन एवं 20 हेक्टयर रकबे में लघु धान्य फसलों का बीज उत्पादन कार्यक्रम लिया गया है। पूर्व वर्षों में प्रक्षेत्र में बीज उत्पादन कार्यक्रम के तहत लगभग 2596 क्विंटल से लेकर 3944 क्विंटल बीजों का उत्पादन प्राप्त किया जा रहा है। 

निगम अध्यक्ष श्री चंद्राकर ने महात्मा गांधी रोजगार योजना अन्तर्गत प्रक्षेत्र में रोड, नाली एवं खेतों के विस्तारीकरण कराने साथ ही सिंचाई क्षमता के विस्तार हेतु नवीन शेलो टयूबवेल कराने एवं अन्डर ग्राउंड पाइप लाइन बिछाये जाने हेतु निर्देशित किया। समीक्षा बैठक और इंस्पेक्शन के दौरान निगम के उप महाप्रबंधक अश्वनी बंजारा सहित अन्य अधिकारी भी मौजूद थे।