सोने चांदी के जेवर व नगदी चोरी करने वाला आरोपी 48 घण्टे में गिरफ्तार चोरी हुये शत प्रतिशत माल बरामद

सोने चांदी के जेवर व नगदी चोरी करने वाला आरोपी 48 घण्टे में गिरफ्तार चोरी हुये शत प्रतिशत माल बरामद

सोने चांदी के जेवर व नगदी चोरी करने वाला आरोपी 48 घण्टे में गिरफ्तार चोरी हुये शत प्रतिशत माल बरामद


 जांजगीर चांपा- ओमप्रकाशसाहु-( क्षेत्रीय भूमिका)- जांजगीरजिला,के सारागांव थाने में आकर प्रार्थी भोलेशंकर साहू पिता समय लाल साहू उम्र 36 वर्ष साकिन सरवानी थाना सारागांव दिनांक 11.07.2021 को थाना उपस्थित आकर रिपोर्टर दर्ज कराया कि दिनांक 10-11.07.2021 के दरम्यानि रात्रि प्रार्थि के घर मकान के अंदर अलमारी में रखे दो जोडी सोने का कान का लटकन , एक नग सोने का मगलसूत्र , एक नग साने का हार , दो जोडी चादी के पायल एंव 20000 रू नगदी जुमला कीमती करीबन 150000 रू को कोई अज्ञात चोर चोरी कर ले गया हैं । कि सूचना पर थाना सारगांव में अपराध कमांक 96/2021 धारा 457,380 भादवि पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया घटना के संबंध में पुलिस अधीक्षक को अवगत कराया गया उनके कुशल मार्गदर्शन एवं दिशानिर्देश पर अज्ञात आरोपी के पतासाजी हेतु थाना प्रभारी सारागांव उप निरीक्षक सुरेश ध्रुव के नेतृत्व में टीम बनाकर अज्ञात आरोपी के लगातार पतासाजी के दौरान आरोपी उर्मेन्द्र शंकर यादव से पूछताछ करने पर बताया कि दिनांक 10-11.07.2021 को दरम्यानि रात्रि में प्रार्थी भोलेशंकर के मकान को सूना पाकर घर में रखे सोन चॉदी व नगदी रकम को आरोपी द्वारा  चोरी करना स्वीकार किया जिसे मेमोरण्डम के आधार पर आरोपी से मुताबिक जप्ती पत्रक के दो जोडी सोने का कान का लटकन , एक नग सोने का मंगलसूत्र , एक नग सोने का हार , दो जोडी चॉदी के पायल एंव 20000 रू नगदी जुमला कीमती 150000 रू को जप्त किये हैं । आरोपी उर्मेन्द्र शंकर यादव पिता परदेशी यादव उम्र 26 वर्ष साकिन वार्ड क्रमांक 05 सरवानी थाना सारागांव जिला जांजगीर चांपा द्वारा धारा सदर का अपराध घटित करना पाये जाने से दिनांक 14 . 072021 के 18:50 बजे विधीवत् गिरफतार किया गया गिरफतारी की सूचना परिजन को देकर ज्यूडिशियल रिमाण्ड पर भेजा गया है । सम्पूर्ण कार्यवाही में थाना प्रभारी सारागांव उप निरी . सुरेश ध्रुव , सउनि रमेश ध्रुव , प्रधान आर . 386 गणेश कौशिक , आर .184 गौर सिह कंवर , आर . 805 दिलीप सिंदार , आर . 587 ओमप्रकाश कर्ष , आर 815 अश्वनी राठौर का सराहनीय योगदान रहा