किसान महापंचायत में खेती बचाओ आंदोलन समिति से धमतरी जिला के हजारों किसान होंगे,शामिल:- शत्रुहन साहू

किसान महापंचायत में खेती बचाओ आंदोलन समिति से धमतरी जिला के हजारों किसान  होंगे,शामिल:- शत्रुहन साहू

किसान महापंचायत में खेती बचाओ आंदोलन समिति से धमतरी जिला के हजारों किसान  होंगे,शामिल:- शत्रुहन साहू




धनेश्वर बंटी सिन्हा/धमतरी-विदित हो कि न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) की गारंटी कानून एवं केंद्र सरकार के द्वारा पारित तीनों कृषि बिल के विरोध में विगत 10 माह से दिल्ली के बॉर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन के समर्थन में देशभर के लाखों किसानों के द्वारा किसान महापंचायत के माध्यम से विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है इसी क्रम में छत्तीसगढ किसान मजदूर महासंघ, खेती बचाओ आंदोलन समिति धमतरी एवं प्रदेश के विभिन्न किसान संगठनों के संयुक्त तत्वाधान में छत्तीसगढ़ में पहली बार 28 सितम्बर मंगलवार को कृषि उपज मंडी राजिम में किसान महापंचायत का आयोजन किया जा रहा है जिसमे संयुक्त किसान मोर्चा दिल्ली के राष्ट्रीय किसान नेता चौधरी राकेश टिकैत, डा. दर्शनपाल, योगेंद्र यादव, मेघा पाटकर, डा. सुनीलम, मुख्य वक्ता के रूप में शामिल होंगे जिसके संबंध में किसान कार्यालय सेंचुरी गार्डन के सामने गांधी मूर्ति के पास कचहरी उतार धमतरी में किसानों की बैठक रखा गया जिसमें किसान महापंचायत को सफल बनाने की रणनीति  किसानों के जाने की तैयारी, आगामी खरीफ फसल को 1 नंबर से संपूर्ण उपज खरीदी करने , मंडी में भी MSP के नीचे बोली नहीं लगाने, खाद की कालाबाजारी पर रोक लगाने, फसल क्षतिपूर्ति की मुवावजा राशि समय पर देने की मांग जैसे विषयों पर चर्चा उपरांत रणनीति तैयार की गई और किसान महापंचायत की तैयारी के लिए चारों ब्लॉक में आयोजन समिति का गठन किया गया जिसमें धमतरी ब्लॉक के लिए राजेंद्र साहू राम विशाल साहू सत्यम पुरी गोस्वामी निशांत भट्ट राम निहोरा निषाद मगरलोड ब्लाक से हीरख साहू अनिल साहू संतोष साहू रामनारायण भखारा ब्लाक से भुनेश्वर साहू निहाल सिंह भीखारी राम पुनीत साहू जीवराखन साहू कुरूद ब्लाक से चेतन साखरे मनोज भतपहरी को जिम्मेदारी सौंपी गई एवं कार्यक्रम में वालंटियर के लिए दिग्विजय सिंह साहू टिकेश्वर सिन्हा भीखम साहू राज नंदन सिन्हा छन्नू साहू को जिम्मेदारी सौंपी गई इस अवसर पर खेती बचाओ आंदोलन के संस्थापक अधिवक्ता शत्रुहन साहू ने कहा की किसानों का दृढ़ व अनथक संघर्ष का ही परिणाम है की किसान आंदोलन निरंतर शक्तिशाली होकर फैल रही है आंदोलन के नारे जीतेंगे या मरेंगे किसानों के निरंतर बढ़ते संकल्प और दृढ़ता का मूर्त रूप है किसानों के इस ऐतिहासिक संघर्ष के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खेती बचाओ आंदोलन समिति के किसान साथी लगातार गांव - गांव जाकर कृषि बिल के विरोध में किसानों को जागरूक कर रहे हैं | किसान मोर्चा के सह संस्थापक टिकेश्वर साहू ने बताया की सभी फसलों पर न्यूनतम समर्थन मूल्य MSP की गारंटी कानून की मांग को लेकर धमतरी जिला के हजारों किसान 28 सितंबर मंगलवार को धमतरी जिला के विभिन्न गांव से निकलकर किसान महापंचायत कृषि उपज मंडी राजिम पहुंचेंगे अतः समस्त किसान भाइयों से अपील किया जाता है कि किसान-महापंचायत में अधिक से अधिक संख्या में शामिल होकर इस ऐतिहासिक क्षण का हिस्सा बने बैठक में मुख्य रूप से रामविशाल साहू, टिकेश्वर सिन्हा, भुनेश्वर साहू मनोज भतपहरी, भिखारी साहू, निशांत भट्ट, प्रेम साहू, सनत निर्मालकर दिग्विजय सिंह अशफ़ाक हाशमी,भीखम साहू रसूल खान सत्यमपूरी गोस्वामी, परमेश्वर पालेश, राजेन्द्र साहू, हिरख साहू, निहाल सिंह,मित्रभान सिन्हा, दिनेश साहू, राजनंद न, अनिल साहू,राम निहोरा, राम नारायण, पुनीत साहू,छन्नू लाल, परमानंद, प्रेम साहू,चेतन साखरे , संतोष मौर्य बड़ी संख्या में किसान उपस्थित रहे ।