सड़कों पर आवारा पशुओं का कब्जा,प्रतिदिन राहगीर हो रहें है हादसे का शिकार

सड़कों पर आवारा पशुओं का कब्जा,प्रतिदिन राहगीर हो रहें है हादसे का शिकार

सड़कों पर आवारा पशुओं का कब्जा,प्रतिदिन राहगीर हो रहें है हादसे का शिकार


आज पाली में हुए युवक  हादसे के  शिकार, पुलिस आरक्षको का दिखा मानवीय चेहरा


दीपक शर्मा/कोरबा/पाली- गांव से लेकर शहर तक की सड़कों पर गोवंश का कब्जा है। इससे जहां सड़क हादसों का ग्राफ बढ़ रहा है, वहीं जाम लगना भी आम हो गया है। रात के समय तो सड़कों पर झुंड बैठे रहते हैं। रोजाना हो रही दुर्घटनाओं के चलते सड़कें खून से लाल हो रही हैं। इस बारे में कई बार आवाज उठा चुके हैं, लेकिन आवारा गाय के संरक्षण को लेकर कोई प्रबंध नहीं किया जा रहा है।


राहगीर इस तरह हो रहे हादसे के शिकार, घायल हुए युवक को आरक्षकों की मदद से अस्पताल ले जाया गया -फ़ोटो/दीपक शर्मा (कोरबा पाली)




ग्रामीण क्षेत्र की सड़क हो या शहरी क्षेत्र की ऐसी कोई सड़क नहीं जहां लावारिस गाय सड़क पर दिखाई न देती हो। अंधेरा होती ही आवारा गायों की संख्या सड़कों पर बढ़ने लगती है। ज्यादातर काले रंग के सांड हादसे का कारण बन रहे हैं। सामने से आ रहे वाहनों की लाइट में सांड दिखाई न देने के कारण हादसा हो रहे हैं। रोजाना छह से सात लोग इन दुर्घटनाओं का शिकार हो रहे हैं। कई बार सांड तो लड़ते लड़ते दुकानों में एवं गुजर रहे वाहनों तक मे घुस जाते है।यही मंजर आज पाली में भी देखने को मिला जहां पाली थाना के सामने ही एक ग्रामीण क्षेत्र का युवक गाय से टकराकर लहूलुहान हो गया जिसमे बाद घटना स्थल से थोड़े ही दूर में मौजूद आरक्षक विनोद योगी 429 एवं आनंद पुरैना 89 ने तत्परता दिखाते हुए थाना की गाड़ी से तत्काल सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पाली पहुँचाया गया जहां उसका उपचार जारी है।युवक को अगर तत्काल उपचार नही मिल पाती तो युवक की जान भी जा सकती थी,आरक्षक की तत्परता एवं निष्ठा को देख मौके पर मौजूद लोगों ने उक्त दोनों आरक्षक को मुक्तकंठ से सराहना की l