प्रफुल्ल ठाकुर की भतीजी प्राची ठाकुर बनी डिप्टी कलेक्टर बधाई देने पहुचे विभिन्न जिले से लोग

  प्रफुल्ल ठाकुर की भतीजी प्राची ठाकुर बनी डिप्टी कलेक्टर बधाई देने पहुचे विभिन्न जिले से लोग

  प्रफुल्ल ठाकुर की भतीजी प्राची ठाकुर बनी डिप्टी कलेक्टर बधाई देने पहुचे विभिन्न जिले से लोग


धमतरी/धनेश्वर बंटी सिन्हा:-प्राची ठाकुर का चयन सीजीपीएससी की परीक्षा पास करने के बाद डिप्टी कलेक्टर के पद पर हुआ है। प्राची का कहना है कि यदि एक बार किसी भी लक्ष्य को  पाने के लिए ठान लो तो उसे पूरा करके ही रुको। सफलता पाने में कई बार असफलता का सामना करना पड़ता है। अगर आप असफलता से निराश हो गए तो कभी लक्ष्य को भेद नहीं पाएंगे।

प्राची भी अपने लक्ष्य को पाने के लिए कई बार असफलता का सामना किया, लेकिन उन्होंने अपने दादा स्व. अजीत ठाकुर का सपना पूरा करने के लिए हार नहीं मानी और डिप्टी कलेक्टर बनकर दिखाया। प्राची ठाकुर ऐसे घर से जहां एक दो नहीं बल्कि कई लोग अच्छे और बड़े-बड़े सरकारी पदों पर हैं। प्राची के दादा स्व. अजीत सिंह ठाकुर बस्तर संभाग के पहले डिप्टी कलेक्टर बने। उन्होंने 1961 पीएससी परीक्षा पास की थी। इसके साथ ही प्राची के पिता राकेश ठाकुर बीएसपी के फाइनेंस डिपार्टमेंट में सीनियर मैनेजर पद से रिटायर हुए। उनकी मां गंगा ठाकुर मॉडल मिडिल स्कूल में एचएम हैं। प्राची के चाचा IPS प्रफुल्ल ठाकुर धमतरी एसपी हैं। चाचा विजय ठाकुर दुर्ग में ट्रैफिक इंस्पेक्टर हैं। बड़े पापा बीबी सिंह एडीजीपी पद से रिटायर हुए। चाचा बृजेश ठाकुर कांग्रेस नेता हैं और बुआ डॉ. रश्मी सिंह भानुप्रताप कॉलेज में प्राचार्य हैं। प्राची ठाकुर का डिप्टी कलेक्टर बनते ही क्षेत्र के लोगों में काफी खुशी देखने को मिल रहा है।