गरियाबंद निजी इंग्लिश स्कूल में आर.टी.ई के तहत लिया था दाखिला ,,, फिर अचानक स्कूल हो गया बंद बच्चों को सताने लगी भविष्य की चिंता ,,,शिव सेना जिला अध्यक्ष ने ज्ञापन सौंपा कलेक्टर से किया ये मांग

गरियाबंद निजी इंग्लिश स्कूल में आर.टी.ई के तहत लिया था दाखिला ,,, फिर अचानक स्कूल हो गया बंद बच्चों को सताने लगी भविष्य की चिंता ,,,शिव सेना जिला अध्यक्ष ने ज्ञापन सौंपा कलेक्टर से किया ये मांग

गरियाबंद निजी इंग्लिश स्कूल में आर.टी.ई के तहत लिया था दाखिला ,,, फिर अचानक स्कूल हो गया बंद बच्चों को सताने लगी भविष्य की चिंता ,,,शिव सेना जिला अध्यक्ष ने ज्ञापन सौंपा कलेक्टर से किया ये मांग


गरियाबंद : ज़िला मुख्यालय एक निजी स्कूल अचानक बंद हो जाने से ,,, विद्यार्थियों को अब आगे की पढ़ाई के लिए चिंता सताने लगी है


इस  समस्या के समाधान के लिए शिवसेना जिला अध्यक्ष मुकेश पांडे ने गरियाबंद कलेक्टर को ज्ञापन सौंपकर अन्य किसी भी निजी स्कूल में प्रवेश दिलाने की  मांग है 


जिस पर कलेक्टर ने आश्वासन देते हुए कहा कि उचित कार्यवाही किया जाएगा बच्चों के भविष्य से  खिलवाड़ नही होगा


गरियाबंद :  विगत कई वर्षों जिला मुख्यालय में संचालित ग्रेस इंग्लिश मीडियम स्कूल जिसमें  क्षेत्र से लगभग 100 विद्यार्थीओ का आर .टी. ई योजना पर अलग अलग कक्षाओं के लिए स्कूल में दाखिला हुआ था


निर्धन परिवार के बच्चों को सरकार के इस महती योजना से अच्छी शिक्षा प्राप्त हो रही थी,,, कि अचानक इस स्कूल को संचालक द्वारा स्कूल को बंद कर दिया गया


स्कूल बंद होते ही आगे की पढ़ाई के लिए ,,,क्या किया जाए यह चिंता पालको व  विद्यार्थियों को सताने लगी


 जब पालकों ने अन्य निजी स्कूल में भर्ती कराने हेतु प्रक्रिया जानना चाहा तब उन्हें बताया गया कि आर.टी.ई के तहत एक  स्कूल में दाखिला होने के बाद अन्य दूसरे स्कूलों में दाखिला नहीं होता यह जवाब जान कर   परिजन काफी चिंतित हुए ,,, 


और अपनी परेशानी  शिवसेना के जिला जिलाध्यक्ष मुकेश पांडे से अवगत करवाया 

मुकेश पांडे द्वारा इस समस्या को लेकर आज  कलेक्टर को ज्ञापन सौंपते हुए निवेदन किया कि इन विद्यार्थियों को अन्य किसी भी निजी स्कूलों में प्रवेश दिलाया जाए या वर्तमान में सरकार के द्वारा संचालित न्यू इंग्लिश मीडियम स्कूल में भर्ती दिलवा जाए ,,, जिस पर कलेक्टर ने उचित कार्यवाही करते हुए विद्यार्थियों को शिक्षा उपलब्ध करवाने की के लिए आश्वासन दिया है