टिकैत के कार्यक्रम में गरजे अमितेष -कहे....बाबा राम सिंह जी की जो आह है वो निश्चित रूप से एक दिन इस केंद्र सरकार को भष्म कर देगी

टिकैत  के कार्यक्रम में गरजे अमितेष -कहे....बाबा राम सिंह जी की जो आह है वो निश्चित रूप से एक दिन इस केंद्र सरकार को भष्म कर देगी

टिकैत  के कार्यक्रम में गरजे अमितेष -कहे....बाबा राम सिंह जी की जो आह है वो निश्चित रूप से एक दिन इस केंद्र सरकार को भष्म कर देगी




कुलेश्वर सिन्हा/गरियाबंद/राजिम- 28 सितंबर 2021 को छत्तीसगढ़ के राजिम में किसान महा पंचायत का आयोजन किसान संगठन द्वारा किया गया था, जिसमे माननीय अमितेश शुक्ल प्रथम पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री, छत्तीसगढ़ शासन और विधायक राजिम भी टिकैत जी के किसान आंदोलन और राजिम के इस किसान महापंचायत को समर्थन देने पहुंचे।



 इस किसान महापंचायत में राज्य के लगभग 12 से 15 हजार किसान मौजूद थे। इस अवसर पर माननीय अमितेश शुक्ल जी ने पत्रकारों से रूबरू होते हुए कहा कि वो और उनका पूरा परिवार हमेशा से ही किसान समर्थक और हितैसी रहे है। प्रदेश की कांग्रेस सरकार, राहुल गांधी जी, सोनिया गांधी जी हमेशा से किसानों के हितैसी रहे है। किसान के किसी भी संगठन को मैं हमेशा समर्थन देता रहूंगा। भागीरथी श्याम भैया के पुत्र के रूप में किसान मेरी सर्वप्रथम प्राथमिकता है। मेरे पिता जी स्व श्री श्यामाचरण शुक्ल जी आज भी क्षेत्र के किसानों और क्षेत्र की जनता के लिए भागीरथी के रूप में जाने जाते है, जिसका उदाहरण क्षेत्र का सिकासार बांध और पंडित रविशंकर शुक्ल (गंगरेल) बांध है। केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ जारी किसानों के आंदोलन के दौरान कई किसानों की मृत्यु हो गई तथा कई किसानों ने आत्महत्या कर ली। किसानों के समर्थन में संत बाबा राम सिंह जी ने आत्महत्या कर ली। बाबा राम सिंह किसानों पर केंद्र सरकार के रवैये से आहत थे। माननीय श्री अमितेश शुक्ल जी ने आगे कहा कि किसानों की और बाबा राम सिंह जी की ये जो आह है वो निश्चित रूप से एक दिन इस केंद्र सरकार को भष्म कर देगी।