प्रदेश में कोविड मामले में कांग्रेस सरकार की अकर्मण्यता उजागर हो गई है - सांसद चुन्नी लाल साहू

प्रदेश में कोविड मामले में कांग्रेस सरकार की अकर्मण्यता उजागर हो गई है - सांसद चुन्नी लाल साहू

प्रदेश में कोविड मामले में कांग्रेस सरकार की अकर्मण्यता उजागर हो गई है - सांसद चुन्नी लाल साहू


  


सागर मयानी/गरियाबंद - महासमुंद लोकसभा के सांसद चुन्नीलाल साहू ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा कि कोरोना संक्रमण के मामले में छत्तीसगढ़ अब देश में पहले नंबर पर आ गया है। प्रदेश सरकार की लापरवाही और कर्मण्यता के कारण वैश्विक महामारी के इस दौर में छत्तीसगढ़ में हालत भयावह हो गए है। प्रदेश में संक्रमित मरीज का आंकड़ा 6 लाख पहुंचने वाले हैं, रिकवरी रेट घटकर 74 प्रतिशत पर आ गया है। अब तक 5 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। रोज सैकड़ो मौतें हो रही है। रोज हजारो की संख्या में नए संक्रमित मरीज सामने आ रहे है। मरीजो को आक्सीजन और वेंटीलेटर बेड नही मिल पा रहे है। इस वीभत्स हालात में भी प्रदेश सरकार में गंभीरता नजर नही आ रही है। अफसोस के साथ कहना पड़ रहा है अगर कांग्रेस सरकार समय रहते सही कदम उठाती तो प्रदेश के ये हालात नही होते।


  

सांसद ने आरोप लगाया कि अपनी नाकामी छुपाने प्रदेश सरकार मौत के आंकड़े छिपाने का काम कर रही है, सीएम और स्वास्थ्य मंत्री की आपसी गुटबाजी के कारण पूरा प्रदेश आज जल रहा है और आज भी सीएम नीरो की तरह चैन की बंशी बजा रहे हैं। असम के लोगों की मेहमाननवाजी की जा रही है। लॉकडाउन में उन्हें शराब, बकरा, मुर्गा खिलाया-पिलाया जा रहा है। अफसोसजनक बात यह है कि भाजपा द्वारा सुझाव देने पर भी अहंकारी सीएम का अमर्यादित बयान ही सामने आता है।


  

कांग्रेस के कारण ही इतनी बदतर स्थिति में पहुंच गया छतीसगढ़



सांसद ने कहा कि कम जनसंख्या वाले छोटे राज्यो मंे कोरोना संक्रमण की स्थिति बेहतर है परंतु आज छत्तीसगढ़ कुप्रबंधन, भ्रष्टाचार, राजनीतिक दुराग्रह और तानाशाही के कारण संक्रमण में देश में नंबर वन हो गया है। शुरू से नकारा रही कांग्रेस सरकार में कोरोना से अधिक मौत शुरू में क्वारंटीन सेंटर में हो रही थी। सेंटर के लिए सब्जी आदि खरीदने में शर्मनाक भ्रष्टाचार की खबरें सामने आई। प्रदेश सरकार कोरोना के विरुद्ध लड़ाई में कितनी गंभीर हैं इसी बात से समझा जा सकता है कि प्रदेश के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल के डॉक्टरों को इसलिए हडताल करनी पड़ती है कि छत्तीसगढ़ सरकार उन्हें घटिया मास्क और पीपीई किट दे कर और पीपीई किट के डिस्पोजल की पर्याप्त व्यवस्था ना कर संक्रमण की खाई में ढकेल रही है।



राज्य सरकार की लापरवाही से टीकाकारण में हुई देरी



सांसद साहू ने कहा कि कांग्रेस सरकार ने भारतीय टीके को बदनाम करने का पाप किया है देश के वैज्ञानिको का अपमान किया है। अभी तक प्रदेश में यहां टीकाकरण पूरा किया जा सकता था। परंतु कांग्रेस सरकार ने वैक्सीन को लेकर भी अपनी घटिया राजनीति की। दुर्भावना से ग्रस्त और मोदी फोबिया से पीड़ित कांग्रेस ने वैक्सीन पर सवाल उठाए। समय पर वैक्सीन नही लगने दी। अगर उस समय टीका को रोका नही होता तो आज स्थिति कुछ और होती। सांसद ने कहा कि कांग्रेस इतनी शर्महीन हो गई है कि पहले टीके का विरोध किया और पात्रता नही होने के बाद भी कांग्रेसी नेताओ को वैक्सीन लगाई गई। उन्होने कहा कि कांग्रेस सरकार को प्रदेश की जनता से माफी मांगनी चाहिए और अभी भी समय है जनता की सेवा और उनके जिंदगी की सुरक्षा के लिए गंभीरता से काम करें।