आमजनता की अपेक्षाओं पर खरा उतरने सरकार ने हरसंभव प्रयास किए : महापौर

आमजनता की अपेक्षाओं पर खरा उतरने सरकार ने हरसंभव प्रयास किए : महापौर

आमजनता की अपेक्षाओं पर खरा उतरने सरकार ने हरसंभव प्रयास किए : महापौर



नगरवासियों ने लोकवाणी के जरिए सुनी विकास के दौर की कहानी, मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की जुबानी


धनेश्वर बंटी सिन्हा/धमतरी-मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मासिक रेडियो वार्ता लोकवाणी की 19वीं कड़ी का आज सुबह 10.30 से 11.00 बजे के बीच प्रसारण आकाशवाणी सहित विभिन्न क्षेत्रीय समाचार चैनलों के माध्यम से किया गया। मुख्यमंत्री ने आज की कड़ी में “विकास का नया दौर“ विषय पर प्रदेशवासियों को संबोधित किया। लोकवाणी सुनने के बाद महापौर विजय देवांगन ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि कि प्रदेश की सरकार ने आम जनता की अपेक्षाओं पर खरा उतरने के लिए हरसंभव कोशिश की है। उन्होंने आगे कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में पिछले ढाई सालों में लगातार अधोसंरचनाओं का विकास हो रहा है। चाहे सड़क निर्माण हो, या पुल-पुलिया का या फिर ऊर्जा विकास का, कोरोना के दौर में सरकार ने हर क्षेत्र में गुणवत्तापूर्वक निर्माण कार्यों को बेहतर ढंग से मूर्तरूप दिया है।

      लोकवाणी का अनुश्रवण करने के बाद निगम के सभापति अनुराग मसीह ने बताया कि प्रदेश के साथ साथ जिले में भी विकास का नया दौर परिलक्षित हुआ है। राष्ट्रीय शहरी विकास मिशन के तहत महिलाएं समूहों में संगठित होकर व प्रशिक्षित होकर विभिन्न क्षेत्रों में उत्पाद तैयार कर स्वयं आय अर्जित कर रही हैं जो अपने आप में बड़ा और सकारात्मक बदलाव है। वहीं गोधन न्याय योजना से रोजगार के साथ मवेशियों को ठौर मिला है, वहीं सड़क हादसों में भी कमी आई है। एमआईसी सदस्य राजेश ठाकुर ने आज की लोकवाणी सुनने के बाद कहा कि सिर्फ ढाई साल में ही प्रदेश की सरकार ने अनेक चुनौतियों का सामना करते हुए अपने लक्ष्य को हासिल करने में सफलता पाई है। ज़िले में दो नवीन तहसीलों का गठन, राष्ट्रीय राजमार्ग का निर्माण, एनजीजीबी के जरिए ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत करने जैसे अनेक जीवंत उदाहरण हैं। इस अवसर पर निगम आयुक्त मनीष मिश्रा, उपायुक्त सोम, वरिष्ठ नागरिक देवेंद्र अजमानी, एमआईसी मेंबर-राजेश पांडे, केंद्र कुमार पेंदरिया, चोवाराम वर्मा, कमलेश सोनकर, एल्डरमैन अरुण चौधरी,नरेश जसूजा, गजानंद रजक,नारायण यादव सहित निगम के अधिकारी-कर्मचारी लोकवाणी की आज की कड़ी का श्रवण किया।