16 हजार सीड बॉल का पाली वन क्षेत्र में किया गया छिड़काव

16 हजार सीड बॉल का पाली वन क्षेत्र में किया गया छिड़काव

16 हजार सीड बॉल का पाली वन क्षेत्र में किया गया छिड़काव


चेपारानी बीट में कांग्रेस महामंत्री सोनकर ने किया शुभारम्भ


दीपक शर्मा /कोरबा/पाली:-* छत्तीसगढ़ में वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग द्वारा राज्यस्तर पर एक साथ एक ही दिन 11 जुलाई को फलदार पौधों के बीज और सीड बॉल की बुआई कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। इस महत्त्वकांक्षि योजना के तहत मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के मंशा अनुरूप राज्य के वन तथा वन क्षेत्रों में 50 हजार किलोग्राम फलदार पौधों के बीज सहित 25 लाख सीड बॉल की बुआई होगी।

               

इसी कड़ी में आज पाली परिक्षेत्र के 21 बीट में वन विभाग द्वारा वन प्रबंधन समिति एवं जनप्रतिनिधियों के माध्यम से कार्यक्रम का आयोजन कर लक्ष्य अनुरूप 16 हजार फलदार एवं छायादार सीड बॉल बुआई के साथ ही साग सब्जी के बीज का छिड़काव किया जाना था जिसमे वन तथा वनोत्तर क्षेत्रों में बेर,जामुन, बेल, सीताफल, करौंदा तथा मुनगा आदि फलदार प्रजातियों के बीज की बुआई अथवा छिड़काव और सीड बॉल डिब्लिंब का कार्य किया गया। पाली परिक्षेत्र में उक्त कार्य का मुख्य आयोजन चेपारानी बीट कक्ष क्रमांक पी 152 में किया गया। इस संबंध पर पाली रेंजर के एन जोगी ने बताया कि राज्य शासन के इस महत्त्वपूर्ण योजना के अनुसार सीड बॉल बुआई में गीली मिट्टी को बॉल की तरह गोला बनाकर उसके भीतर फलदार, छायादार पौधों के बीज रखना है और फिर उसे गड्ढा खोदकर खेत व तालाब के मेढ़, ग्रामीणों के बाड़ी तथा खुले स्थान पर लगाया जाने के साथ उपरोक्त स्थानों पर सब्जी बीज का छिड़काव भी किया जाना है जहां कटघोरा वनमंडल से पाली परिक्षेत्र को सीड बॉल छिड़काव का मिले लक्ष्य के अनुसार सभी बीट में बीज बुआई और छिड़काव का कार्य कराया गया।




इस महाभियान कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में जिला कांग्रेस कमेटी के महामंत्री दीपक सोनकर, वन विभाग सभापति एवं जनपद सदस्य श्यामा पांडेय, कांग्रेस जिला सचिव रधुवीर दुबे, पार्षद दीपक जायसवाल, सदभाव पत्रकार संघ छत्तीसगढ़ के पाली ब्लाक इकाई अध्यक्ष दीपक शर्मा, वन परिक्षेत्राधिकारी के एन जोगी, वनपाल वाय के आदिले, बृजलाल विश्वकर्मा, राजेश कुमार, रामजी पांडेय, रामरतन डिक्सेना, चैतूसिंह, रेवा राम नेटी, देवराज यादव, पवन पैकरा, प्रेम सिंह, परमानंद यादव, भरत मरावी के साथ ग्रामीणजन उपस्थित थे।