मित्रों से कभी छल नहीं करना चाहिए : भगवताचार्य ऋषिकेश

मित्रों से कभी छल नहीं करना चाहिए : भगवताचार्य ऋषिकेश

मित्रों से कभी छल नहीं करना चाहिए : भगवताचार्य ऋषिकेश


पाण्डुका : समीपस्थ ग्राम घटकर्रा(पचपेड़ी) में ग्राम विकास समिति के तत्वावधान में भागवत कथा का आयोजन जारी है। पूरा गांव भक्ति रस में डूबा हुआ है। भगवताचार्य ऋषिकेश तिवारी विभिन्न प्रसंगों पर सुंदर व्याख्यान दे रहे हैं। सोमवार को सुदामा चरित्र की कथा बताते हुए कहा कि मित्रों से कभी छल नहीं करना चाहिए अन्यथा घोर गरीबी का सामना करना पड़ता है। भागवत ज्ञान गंगा में डुबकी लगाने आसपास के ग्राम बोड़राबांधा, नागझर, टूइयामुड़ा और राचरडेरा से श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ रही है। परीक्षित के रूप में ग्राम के बुजुर्ग दंपत्ति दयालु राम साहू जी कथारस पान कर रहे हैं। प्रसंगानुसार विविध झाँकियाँ निकाली जाती है। प्रतिदिन दोपहर में भंडारे की व्यवस्था रखी गई है। कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए ग्राम के पदाधिकारी महेन्द्र साहू, रामजी निर्मलकर, लालजी साहू, शिवशंकर साहू, गुणित राम साहू पूरी तन्मयता से लगे हुए हैं। आयोजन को समस्त ग्राम वासियों का तन-मन-धन से सहयोग मिल रहा है।