दोना पत्तल फ़ैक्ट्री में चाइल्ड लाइन की संयुक्त टीम के द्वारा रेस्क्यू कर 05 बाल श्रमिकों को कराया काम से मुक्त

दोना पत्तल फ़ैक्ट्री में चाइल्ड लाइन की संयुक्त टीम के द्वारा रेस्क्यू कर 05 बाल श्रमिकों को कराया काम से मुक्त

दोना पत्तल फ़ैक्ट्री में चाइल्ड लाइन की संयुक्त टीम के द्वारा रेस्क्यू कर 05 बाल श्रमिकों को कराया काम से मुक्त

राजिम- चाइल्ड लाईन गरियाबंद में 1098 टेलीफोन के माध्यम से बालश्रमिक बच्चो की जानकारी होने पर फिंगेश्वर विकासखंड के ग्राम बकली में अमय दोना पत्तल फ़ैक्ट्री में चाइल्ड लाइन टीम गरियाबंद से बली राम निषाद,पंकज त्रिपाठी आईसीपीएस से अजित शुक्ला, एवं पुलिस थाना राजिम की  संयुक्त टीम के माध्यम से रेस्क्यू किया गया। फ़ैक्ट्री में 05 बच्चे बरामद किए गए, जन्म सम्बन्धी दस्तावेज के आधार पर 03 बच्चे 14 वर्ष से कम उम्र के पाए गए  तथा 02 बच्चे 14 वर्ष 10 माह, 14 वर्ष 11 माह के है। कार्यस्थल में जायजा लेने के बाद टीम के द्वारा पंचनामा तैयार किया गया जिसमें कार्य लेने के घण्टे,मजदूरी दर,भूगतान आदि के आधार पर पंचनामा तैयार किया गया। नियोजक,बच्चो,पालको एवं समुदाय को बाल श्रम प्रतिषेध संसोधन अधिनियम 2016 के बारे में जानकारी दी गई कि 14 वर्ष तक के सभी बच्चो के लिए किसी भी क्षेत्र में नियोजन प्रतिबंधित है तथा 14 से ऊपर व 18 से नीचे किशोर के लिए निर्धारित क्षेत्रों में नियोजन प्रतिबंधित है यदि कोई व्यक्ति इस बालश्रम करवाता है तो वह अपराध की श्रेणी में आएगा जिसके लिए 20 -50 हजार तक का जुर्माना तथा 2 साल तक जेल या दोनों हो सकता है। बच्चो की सुरक्षा व संरक्षण हेतु सभी बच्चो को पालको के साथ जिला बाल कल्याण समिति गरियाबंद में प्रस्तुत किया गया।