*एसईसीएल सराईपाली परियोजना में नियोजित कंपनी द्वारा स्थानीय वाहन चालकों को काम से निकाला, श्रम कल्याण मंडल के नवनियुक्त सदस्य नवीन सिंह ने जमकर लगाई फटकार, प्रबंधन व कंपनी आया होश में

*एसईसीएल सराईपाली परियोजना में नियोजित कंपनी द्वारा स्थानीय वाहन चालकों को काम से निकाला, श्रम कल्याण मंडल के नवनियुक्त सदस्य नवीन सिंह ने जमकर लगाई फटकार, प्रबंधन व कंपनी आया होश में

*एसईसीएल सराईपाली परियोजना में नियोजित कंपनी द्वारा स्थानीय वाहन चालकों को काम से निकाला, श्रम कल्याण मंडल के नवनियुक्त सदस्य नवीन सिंह ने जमकर लगाई फटकार, प्रबंधन व कंपनी आया होश में*

_____________________________________


दीपक शर्मा/*कोरबा/पाली:-* एसईसीएल के सराईपाली परियोजना अंतर्गत बुड़बुड़ ओपन कास्ट खदान प्रबंधन द्वारा मनमानी एवं तानाशाही रवैया प्रारंभ काल से ही देखने को मिल रहा है जहां अपने कार्य रवैये को लेकर हमेशा चर्चा में रहने वाले प्रबंधन के साथ नियोजित कंपनी का होश ठिकाने तब आया जब यहां कार्यरत स्थानीय वाहन चालकों को काम से निकाले जाने के मामले को लेकर श्रम कल्याण मंडल के नवनियुक्त सदस्य नवीन सिंह ने जमकर फटकार लगाई।


ज्ञात हो कि कोरबा एसईसीएल द्वारा सराईपाली परियोजना अंतर्गत बुड़बुड़ में ओपन कास्ट खदान का संचालन किया जा रहा है जहां नियोजित स्टारेक्स मिनरल्स कंपनी में स्थानीय प्रभावित ग्राम बुड़बुड़ सहित सराईपाली व आसपास के करीबन 150 वाहन चालक कार्यरत है। जिनका कंपनी द्वारा जमकर शोषण करते हुए आधे रेट पर चालकों को भुगतान किया जा रहा था। बीते दिनों चालकों द्वारा आधे रेट पर भुगतान को लेकर एकजुटता दिखाते हुए वाहन चालक कल्याण संघ का गठन किया गया और कंपनी के शोषण के खिलाफ 15 जुलाई से एसईसीएल के मुख्य द्वार के सामने धरना प्रदर्शन प्रारंभ किया। इस दौरान 17 जुलाई को एसईसीएल के परियोजना खान प्रबंधक व स्टारेक्स कंपनी के मैनेजर राव एवं वाहन चालकों के मध्य त्रिपक्षीय वार्ता हुई जिसमें खान प्रबंधक ने मौखिक रूप से चालकों को पूरा भुगतान कराने आश्वस्त किया और दबाव में आकर कंपनी ने सभी वाहन चालकों का पूरा भुगतान तो कर दिया लेकिन सभी को काम से भी निकाल दिया। बेरोजगार हुए चालकों ने श्रम कल्याण मंडल छत्तीसगढ़ शासन के नवनियुक्त सदस्य नवीन ठाकुर से संपर्क किया और अपनी व्यथा सुनाते हुए न्याय दिलाए जाने की मांग की। जहां पाली स्थित पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस में नवीन सिंह ने वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवं जनपद सांसद प्रतिनिधि गुरुचरण सिंह राजपाल के साथ चालकों की बैठक लेकर उनकी समस्या विस्तार से सुनी और तत्काल स्टारेक्स मिनरल्स कंपनी के मैनेजर राव को जमकर फटकार लगाते हुए कहा कि सभी वाहन चालक को काम पर वापस लो नही तो तुम बोरिया- बिस्तर बांधकर तैयार रहो। श्री ठाकुर की इस फटकार से एसईसीएल प्रबंधन एवं कंपनी की घिग्घी बंध गई और हरकत में आते हुए सभी चालकों को काम पर वापस बुलाने की बात कही। नवीन ठाकुर ने सभी चालकों को आश्वस्त किया है कि कंपनी अब शोषण की बात भी नही सोचेगी और उनकी नौकरी बचा ली जाएगी। श्री ठाकुर की इस पहल और कड़े तेवर से वाहन चालकों को उनकी नौकरी वापस मिली जिसके लिए चालकों ने उनका धन्यवाद और आभार जताया।


*मजदूरों का शोषण बर्दाश्त नही किया जाएगा- नवीन ठाकुर*

प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सचिव एवं श्रम कल्याण मंडल के नवनियुक्त सदस्य नवीन ठाकुर ने इस संबंध पर कहा कि नियोजित कंपनियों द्वारा छत्तीसगढ़ की भोली- भाली जनता का शोषण करना छोड़े और कार्यरत लोगों के साथ सहयोगात्मक भाव लेकर चले अन्यथा क्षेत्र के लोगों के साथ छत्तीसगढ़ शासन खड़ा है और उनका शोषण किसी भी हद तक बर्दाश्त नही किया जाएगा। श्री ठाकुर ने बताया कि स्टारेक्स मिनरल्स कंपनी द्वारा एसईसीएल प्रबंधन के साथ मिलकर वाहन चालकों का शोषण किया जा रहा था जिसका आवाज उठाने पर उन्हें नौकरी से ही निकाल दिया गया। हमारी जमीन पर हमें ही डराना- धमकाना एसईसीएल को महंगा पड़ सकता है। इस तरह का शोषण कतई बर्दाश्त नही किया जाएगा। उन्होंने आगाह करते हुए कहा है कि कंपनी आगे से चेत जाए वरना मनमानी व तानाशाही रवैया भारी पड़ सकता है।