गरियाबंद के तीन विकासखंड में कोविड 19 टीकाकरण का शुभारंभ

गरियाबंद के तीन विकासखंड में कोविड 19 टीकाकरण का शुभारंभ

    गरियाबंद के तीन विकासखंड में कोविड 19 टीकाकरण का शुभारंभ

डॉक्टर्स, हेल्थ वर्कर और फ्रंट लाइन वर्कर को टीका लगा


गरियाबंद - जिले में शनिवार से कोविड वैक्सीनेशन का शुभारंभ हो गया। पहला टीका स्वास्थ्य विभाग के डाटा मैनेजर लंबोदर महतो को लगाया। इसके बाद जिला स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ नेतराम नवरत्ने और अन्य चिकित्सको और स्वास्थ्य अमले को लगाया गया। वैक्सीनेशन की शुरूआत सुबह 10 कलेक्टर निलेश क्षीरसागर, जिला पंचायत सीईओ चंद्रकांत वर्मा तथा नगर पालिका के अध्यक्ष अब्दुल गफ्फार मेमन की उपस्थित मे की गई। अतिथियो द्वारा फीता काटकर वैक्सीनेशन कक्ष का उद्घाटन किया गया। 



कलेक्टर व नपा अध्यक्ष ने दी बधाई



इस अवसर पर कलेक्टर निलेक्ष क्षीर सागर ने स्वास्थ्य विभाग को बधाई देते हुए कहा कि प्रथम चरण में निर्धारित मापदंड के अनुरूप चिकित्सको, हेल्थ वर्कर और फं्रट लाइन वर्कर को टीका लगाया जाए। उन्होने कहा कि कोरोना संक्रमण की वर्तमान स्थिति को देखते हुए टीकाकरण काफी महत्वपूर्ण है, कोई भी स्वास्थ्यकर्मी टीकाकरण से वंचित ना रहे। 



इस अवसर पर नगर पालिका अध्यक्ष अब्दुल गफ्फार मेमन ने प्रथम टीका लगाए जिला डाटा मैनेजर लंबोदर महतो तथा जिला स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ नेतराम नवरत्ने सहित समस्त स्वास्थ्यकर्मियो को वैक्सीनेशन को लेकर बधाई दी। उन्होने कहा कि कोरोना काल में स्वास्थ्य अमले ने अपने जान जोखिम में डाल लोगो की सेवा की है। आज भी ये कोरोना संक्रमितो के स्वास्थ्य सुधार के लिए समर्पित होकर काम कर रहे है। प्रथम चरण में चिकित्सको, हेल्थ वर्कर को टीकाकरण किया जाना बहुत ही अच्छा निर्णय है। 



पहले दिन 300 लोगो का लगाया गया वैक्सीन



जिला स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ नेतराम नवरत्ने ने बताया कि पहले दिन जिले के तीन स्थानो में एक साथ वैक्सीनेशन की शुरूआत की गई। जिला चिकित्सालय गरियाबंद, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र फिंगेश्वर तथा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र राजिम में कोविड प्रोटोकॉल के तहत दो गज दूरी, हाथ साबुन से धोना तथा मास्क पहनना का पालन करते हुए टीकाकरण किया गया। उन्होने बताया कि पहले चरण में जिले में 3940 डोज प्राप्त हुए है। जिसमें आज 143 लोगो को टीकाकरण किया गया। अब 18 जनवरी से जिले के सभी ब्लाको में दो दो स्थानो से वैक्सीनेशन किया जाएगा। टीकाकरण दिवस एवं अवकाश को छोड़कर अन्य दिन में सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रो में टीकाकारण किया जाएगा। जिसमें स्वास्थ्य कर्मियो के अलावा मितानिनो और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओ को भी लगाया जाएगा। सीएमओ ने बताया कि 18 वर्ष से कम आयु, गर्भवती महिला, कोरोना पाजीटीव और बीमार व्यक्तियो को टीका नही लगाया जाएगा। 



प्रोटोकाल के तहत लगाया गया कोविशील्ड वैक्सीन



इसके पहले वैक्सीनेशन को लेकर स्वास्थ्य विभाग में उत्साह का माहौल देखने को मिला। वैक्सीनेशन कक्ष को गुब्बारो से सजाया गया था। वैक्सीनेशन के लिए आए व्यक्तियो की सुरक्षाकर्मियो द्वारा पहचान पत्र की जांच कर वेरीफाई किया गया, जिसके बाद प्रतीक्षा कक्ष में भेजा गया। यहां लीलाधर सिन्हा द्वारा रिकार्ड जांच कर वैक्सीनेशन के लिए आगे भेजा गया। वैक्सीन कक्ष में श्रीमति त्रिवेणी कुंजाम द्वारा सबसे पहले जिला डाटा मैनेजर लंबोदर महतो को कोविशील्ड कोरोना वैक्सीन लगाई गई। इसके बाद उन्हे 30 मिनट तक निगरानी कक्ष में रखा गया। फिर वैक्सीन लगने का टीकाकरण कार्ड दिया गया। कार्ड में कन्ट्रोल रूम का नंबर, ईमरजेंसी नंबर, 108 व अन्य प्रभारी अधिकारी का नंबर दिया गया है ताकि, वैक्सीन लगने पश्चात किसी भी प्रकार के प्रतिकूल घटना, होने पर संपर्क कर सकते है। इसी प्रकार अन्य हितग्राहियो को भी वैक्सीन लगाया गया। सीएमओ ने बताया कि किसी भी प्रकार के प्रतिकूल घटना होने पर जिला चिकित्सालय के सेसन सत्र में आवश्यक इंतजाम किया गया है।



इनको लगा पहला दिन वैक्सीन



इस अवसर पर कार्यक्रम का संचालन टीकारण की नोडल अधिकारी व डिप्टी कलेक्टर श्रीमति ऋषा ठाकुर ने किया। पहले दिन जिला चिकित्सालय में कोविशील्ड वेक्सीन मुख्य चिक्त्सिा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, डॉ. एन. आर. नवरत्न, सिविल सर्जन, डॉ जी. एल टण्डन, सर्जन, डॉ हरिश चैहान, जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. बी. बारा, मेडिकल ऑफिसर श्रीमती निशा नवरत्न, जिला कार्यक्रम प्रबंधक डॉ रीना लक्ष्मी, जिला लेखा प्रबंधक प्रशांत अवधिया, टी. बी. कार्यक्रम कार्यरत स्टाफ अमृत राव भोंसले, भुपेश साहू, कार्यालयीन स्टाफ लोकेश कुमार वर्मा, सोमेश्वर सिंह ठाकुर, योगेश कुमार साहू, शंकर पटेल, डॉ, योगेन्द्र सिंह रघुवंशी, वेद प्रकाश साहू व चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी व अन्य मितानिन, आंगनबाडी कार्यकर्ता द्वारा टीका लगाया गया। इस दौरान उक्त कोविड टीकाकरण में जिला टीकाकरण अधिकारी, जिला कार्यक्रम प्रबंधक, जिला डाटा प्रबंधक, विकासखण्ड कार्यक्रम प्रबंधक, सेक्टर सुपरवाईजर, व कार्यालयीन स्टॉफ उपस्थित रहें।


18 जनवरी से जिले के 10 स्थानो में होगा टीकाकरण



इसके बाद अब 18 जनवरी से जिले के 7 और सत्रों में टीकाकरण किया जाना प्रस्तावित है। टीकाकरण हेतु जिले में सभी तैयारियां पूर्ण कर ली गई। जिले में कुल 6473 लाभार्थी पंजीकृत है जिनमें 60 प्रतिशत लाभार्थियों का टीकाकरण किया जावेगा। कुल 13 कोल्ड चैन प्वाइंट व 26 सत्र स्थल चिन्हांकित किये गये हैं। प्रति सत्र स्थल में 05 सदस्यीय टीम व रिजर्व टीम बनाया गया है। जिसमें लगभग 230 प्रशिक्षित स्टॉफ की ड्यूटी लगाई गई है। किसी भी प्रकार के सामान्य दुष्प्रभाव से बचाव हेतु सभी टीकाकरण सत्रों में एनाफाईलेक्टिक किट उपलब्ध कराई गई है तथा एईएफआई के लिए 22 संस्था जिसके अंतर्गत जिला चिकित्सालय, 05 सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र व 16 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र टीकाकरण सत्रों से लिंक किये गये हैं। जहां प्रशिक्षित स्टाफ उपलब्ध है। 



----------------------