किसानों की मूलभूत समस्या को लेकर भाजपा ने किया जंगी धरना प्रदर्शन

किसानों की मूलभूत समस्या को लेकर भाजपा ने किया जंगी धरना प्रदर्शन

किसानों की मूलभूत समस्या को लेकर भाजपा ने किया जंगी धरना प्रदर्शन


तहसील कार्यालय पाली के सामने बड़ी संख्या में जुटे किसान एवं भाजपा नेता,


दीपक शर्मा/कोरबा/पाली:- भारतीय जनता पार्टी एवं किसान मोर्चा मंडल चैतमा एवं पाली के संयुक्त तत्वाधान में किसानों की 06 सूत्रीय मांग (समस्या)को लेकर तहसील कार्यालय के सामने जंगी धरना प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शन के दौरान भाजपा एवं किसान नेताओं ने राज्य सरकार पर किसानों के साथ छलावा करने का आरोप लगाया साथ कि 06 सूत्रीय मांग पूरी नही होने पर किसानों के हित मे सड़क की लड़ाई लड़ने का ऐलान किया। एवं प्रदर्शन के बाद रैली की सक्ल में तहसील कार्यालय पहुँच कर राज्यपाल महोदया के नाम 06 सूत्रीय मांग सहित तहसील दार को ज्ञापन सौंपा गया।






 भाजपा एवं किसानों नेताओ ने प्रमुख रूप से पत्र के माध्यम से प्रदेश के अल्प बारिश वाले विकासखंडों को जल्द सूखाग्रस्त घोषित करने, घोषणा पत्र के अनुरूप किसानों को 02 साल का बकाया बोनस प्रदान करने,अधोषित बिजली कटौती पूर्णतः बंद कर बढ़ी हुई बिजली दर की कम करने, स्थाई पम्प कनेक्शन हेतु किसानों को तत्काल अनुमति प्रदान करने, सोसायटियों में खाद की नियमित आवक एवं कालाबाजारी पर अंकुश, 01 नवम्बर धान खरीदी प्रारंभ करें बार-बार दाने की उचित व्यवस्था खरीदी की पूरी सुनिश्चित करने जैसी मांग रखी। इस अवसर पर प्रमुख रूप से पूर्व खाद्य आयोग अध्यक्ष ज्योतिनंद दुबे,किसान मोर्चा जिला अध्यक्ष चुलेश्वर राठौर,भाजपा जिलाउपाध्यक्ष संजय भावनानी, भाजपा जिलामंत्री अजय जायसवाल, भाजयूमो प्रदेश उपाध्यक्ष चिंटू राजपाल,पाली भाजपा मंडल अध्यक्ष रोशन सिंह,चैतमा मंडल अध्यक्ष कृष्णा यदु,डॉ लक्ष्मी नारायण जायसवाल,शिव प्रकाश कंवर,पूर्व मंडल अध्यक्ष कीर्ति कश्यप,सुकालू प्रजापति,रूपविलास गोस्वामी,कमल राज,विवेक कौशिक,कन्हैया यदु,राजेश पारवानी,नवरतन सिंह,जय प्रकाश प्रजापति,जिला कोषाध्यक्ष किसान मोर्चा हरि साहू,जितेंद्र माटे, भंवर सिंह,मोहित गुप्ता,मुकेश कौशिक,राजा डिक्सेना,दीपक शर्मा,विक्की अग्रवाल,तारकेश्वर पटवा,राकेश शर्मा,कैलाश उइके,मिथुन यादव, दिलीप पटेल,निजाम खान,रामफल यादव, सुजीत सिंह,विशाल मोटवानी सहित बड़ी संख्या में भाजपा नेता कार्यकर्ता एवं किसान गण उपस्थित थे।