मक्का की फसल में अनजान व्यक्ति के द्वारा घास मारने की दवाई का उपयोग कर फसल को बर्बाद किया गया

मक्का  की फसल में अनजान व्यक्ति के द्वारा घास मारने की दवाई का उपयोग कर फसल को बर्बाद किया गया

मक्का  की फसल में अनजान व्यक्ति के द्वारा घास मारने की दवाई का उपयोग कर फसल को बर्बाद किया गया


बलीराम मौर्य/बस्तर-बस्तर ब्लाक के ग्राम पिपलावंड जामगुड़ा पारा में स्थित भूमि में ,किसान -तुलाराम कश्यप और पुत्र पिलासिंग कश्यप ने , अभी बरसात सीजन के मौसम में मक्का की फसल बोया था , जिसमें किसी अनजान व्यक्ति के द्वारा रात में आकर खरपतवार नाशक तथा घास मारने का दवाई का छिड़काव कर दिया गया जिसमें किसान को बहुत ही सदमा लगा है की किसान इतनी मेहनत सेहन हो जाता है और किसी ने आकर रात के समय मैं किसी अनजान व्यक्ति के द्वारा घास मारने का दवाई को छिड़काव किया गया है l









   




तथा फसल पूरी तरह से सूख गया जलकर पूरा राख हो गया है और किसान को बहुत ही नुकसाहुआ है ,जब सुबह होते ही किसान की आंखें खुल जाती है तब खेत में  देखता है कि धीरे-धीरे खेत के फसल तथा पौधे झुकते हुए मरते हुए नजर आता है  तो  वजह जानने के लिए पौधे को जब तुला राम ने चेक करने गया तो घास मारने का दवाई का इसमेल आया तब पता चला कि किसी व्यक्ति के द्वारा रात में आकर किसी के द्वारा , घास मारने का दवाई से छिड़काव किया गया है।