जिला कलेक्टर का आदेश जारी, पढ़ई तुंहर दुआर को सफल बनाने पूरे जिले में होगा नवाचार

जिला कलेक्टर का आदेश जारी, पढ़ई तुंहर दुआर को सफल बनाने पूरे जिले में होगा नवाचार

जांजगीर-चांपा जिला कलेक्टर का आदेश जारी, पढ़ई तुंहर दुआर को सफल बनाने पूरे जिले में होगा नवाचार 


नवाचार कार्यक्रम “स्वीकृति” के माध्यम से आनलाईन/आफलाईन कक्षाओं को मिलेगा बढ़ावा


शक्ति से संवाददाता कन्हैया गोयल की खबर


सक्ती- जांजगीर-चांपा जिले में सत्र 2021-22 में बच्चों की पढ़ाई निरंतर जारी रखते हुए पूर्व वर्ष की भांति आनलाईन व आफलाईन कक्षाओं का संचालन किया जा रहा है। इन कक्षाओं को पूरे जिले में व्यापक स्तर पर लागू करने जिला कलेक्टर जांजगीर-चांपा ने आदेश जारी कर डाइट के सहायक प्राध्यापक यू.के.रस्तोगी को समन्वयक नियुक्त किया है। जारी आदेश में कहा गया है कि जिले में पढ़ई तुंहर दुआर का सुचारू क्रियान्वयन नवाचार “स्वीकृति” के माध्यम से संचालित करने हेतु यू.के.रस्तोगी सहायक प्राध्यापक को जिला जांजगीर-चांपा तथा शैक्षणिक जिला सक्ती के लिए समन्वयक नियुक्त किया जाता है। प्रमुख समन्वयक इस कार्यक्रम को प्राचार्य डाइट के निर्देशन में पूरे जिले के सभी 9 विकासखण्डों में संचालित करेंगे। इसी तारतम्य में आज नवागढ़ ब्लाक के सभी 42 संकुल प्राचार्यों व वरिष्ठ व्याख्याताओं का एक दिवसीय कार्यशाला आहूत किया गया। जिला शिक्षा व प्रशिक्षण संस्थान डाईट जांजगीर में आहूत कार्यशाला में कार्यक्रम की रूपरेखा पर व्यापक चर्चा की गयी। कार्यक्रम को प्राचार्य डाइट श्रीमती सविता राजपूत, एबीईओ श्री शर्मा, ओपी शर्मा, श्रीमती लता राठौर, श्री रत्नाकर आदि ने संबोधित किया। कार्यक्रम के समन्वयक यू.के.रस्तोगी ने बताया कि “स्वीकृति” नाम से आरंभ की जा रही नवाचार जिले के स्कूलों में व्यावहारिक रूप से सक्षमता के साथ कार्य करने के लिए तत्पर एवं प्रतिबद्ध है। कार्यक्रम के माध्यम से बच्चों को उसकी कक्षा व पाठ्यक्रम के अनुरूप विषय ज्ञान करायेंगे। इसमें प्राचार्यों जो कि संकुल प्रभारी है द्वारा एक सक्रिय व्याख्याता का चयन कर संकुल शैक्षिक समन्वयक की मदद से संबंधित संकुल में अधिकतम स्कूलों का चयन करेंगे और आनलाईन / आफलाईन कक्षाओं को प्रोत्साहित करेंगे। श्री रस्तोगी ने बताया कि इसके लिए जिला स्तर पर तथा ब्लाक स्तर पर टीम का गठन किया जायेगा जिसके माध्यम से पूरे कार्यक्रम की मानिटरिंग की जायेगी और जिला कलेक्टर को प्रतिवेदन सौंपा जायेगा। उन्होंने कहा कि पूरा कार्यक्रम जिला कलेक्टर के मार्गदर्शन में संपन्न होगा।

गौरतलब हो कि पढ़ई तुंहर दुआर के तहत पारा मोहल्ला कक्षाओं को जिले भर के विद्यालयों में नवाचार कार्यक्रम ”स्वीकृति“ के माध्यम से लागू करने जिला कलेक्टर जांजगीर-चांपा द्वारा आदेश जारी किया गया है। इस नवाचार कार्यक्रम को ”स्वीकृति“ नाम दिया गया है। आज 22 जुलाई को इस संबंध में नवागढ़ ब्लाक का पहला कार्यशाला आहूत किया गया। कार्यशाला में डाइट प्राचार्य श्रीमती सविता राजपूत, नवाचार कार्यक्रम के समन्वयक यू.के.रस्तोगी सहा.प्राध्यापक, एबीईओ राजीव नयन शर्मा, इन्द्रमणि सिंह, व्याख्याता डाइट संजय शर्मा, श्रीमती रमा गोस्वामी, नवाचारी शिक्षक राजेश कुमार सूर्यवंशी आदि मंचस्थ रहे। कार्यशाला में नवाचार पर प्रकाश डाला गया तथा प्राचार्यों से सुझाव आमंत्रित किये गये। आहूत कार्यशाला में प्राचार्य श्रीमती ए.खाखा, श्रीमती दुर्गा भगत, वेदराम रत्नाकर, डा. सुभाषिनी शर्मा, बसंत देवांगन, ओमप्रकाश शर्मा, कीर्तिविलास शर्मा सहित नवागढ़ विकासखण्ड के सभी 42 संकुलों अमोदा, बोड़सरा, गौशाला नैला, बनारी धाराशिव (खोखरा), धनेली, बुड़ेना, अवरीद, धुरकोट, कन्या जांजगीर, खोखसा, खोखरा, गौद, कचंदा, घुठिया, कटौद, केरा, कुटरा, महंत, जांजगीर क्र. 02, कुरियारी, रिंगनी, मुड़पार, मिसदा, नवागढ़, किरीत, पीथमपुर, सिवनी, सरखों, तेंदूभाठा, सदर जांजगीर, सुकली, रोगदा, उदयभाठा, सेमरा, सलखन, सिंघुल, तुलसी, शिवरीनारायण, तुस्मा व धाराशिव (रोगदा) के सभी संकुल प्राचार्य उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन नवाचारी शिक्षक राजेश कुमार सूर्यवंशी ने तथा आभार प्रदर्शन व्याख्याता संजय शर्मा ने किया