महाशिवरात्री के अवसर पर आज भूतेश्वरधाम मे लगेगा श्रध्दालुओ का ताता

महाशिवरात्री के अवसर पर आज भूतेश्वरधाम मे लगेगा श्रध्दालुओ का ताता

महाशिवरात्री के अवसर पर आज भूतेश्वरधाम मे लगेगा श्रध्दालुओ का ताता

हजारो की संख्या मे जलाभिषेक करने पहुचेगे शिवभक्त


गरियाबंद - गुरूवार को महाशिवरात्री के अवसर पर नगर से तीन किमी दूर स्थित विश्व प्रसिध्द शिवलिंग भूतेश्वारनाथ मंदिर में श्रध्दालुओ की भीड़ उमडेगी। हजारो की संख्या मे दूर दराज से आए शिवभंक्त जलाभिषेक और दुग्धाभिषेक से भगवान शिव की पूजा अर्चना कर और सुख समृध्दि की कामना करेंगे। 

ज्ञात हो कि मुख्यालय से 3 किमी दूर स्थित विश्व प्रसिध्द शिवलिंग भूतेश्वरनाथ धाम विश्व के विशालतम शिवलिंग होने की ख्याति प्राप्त करने के साथ ही अंचल में धार्मिक आस्था का प्रमुख केन्द्र है। हर साल यहां महाशिवरात्री के अवसर पर भगवान भोलेनाथ की विशेष पूजा अर्चना की जाती है। हजारो की संख्या में श्रध्दालुओ की भीड़ दर्शन के लिए पहुचती है। सुबह पांच बजे से ही भक्तो के आने का सिलसिला शुरू हो जाता है जो देर रात तक चलता रहता है। इस दौरान आसपास के ग्रामीण अचंल सहित छुरा, मैनपुर, देवभोग, फिंगेश्वर, राजिम के अलावा जिले से लगे महासमुंद, धमतरी, रायपुर तथा दुर्ग भिलाई, राजनांदगांव इत्यादि जिलो से हजारो की संख्या में यहां शिव भक्त पहुचते है। गुरूवार को भी महाशिवरात्री के अवसर पर हजारो की संख्या में श्रध्दालुओ के पहुचने की संभावना है।


ज्ञात हो कि अपने आप में आलौकिक और अनौखे इस शिवलिंग की खासियत है कि हर साल इस शिवलिंग का आकार स्वतः ही वृध्दि होती है। हर साल एक से दो फीट इसका आकार बढ़़ जाता है। जिसके चलते यह शिवलिंग देश सहित विदेश में भी प्रसिध्दी प्राप्त कर चुका है। आसपास के अंचल में मान्यता है कि यहां भगवान भोलेनाथ को जलअर्पण कर की गई मनोकामना पूर्ण होती है। इसके कारण हर साल यहां महाशिवरात्री और सावन मास में विशेष पूजन अर्चना का आयोजन होता है। साथ ही बड़ी संख्या में श्रध्दालु दूर दराज से भक्तिभाव के साथ पहुचते है। 


इस संबंध आयोजन को सफल बनाने के लिए भूतेश्वरनाथ समिति के जुटे समिति के सदस्य और ग्राम मरोदा के ग्रामीण जुटे हुए है। समिति सदस्य प्रकाश चंद रोहरा ने बताया कि हर साल की तरह इस वर्ष भी विशेष पूजन का आयोजन होगा, श्रध्दालुओ के लिए भंडारा प्रसादी वितरण का भी आयोजन किया गया है। उन्होने कहा कि कोरोना को देखते हुए इस बार आयोजन को लेकर काफी सावधानी बरती जा रही है। सभी श्रध्दालुओ से अपील की है कि आपस में सोशल डिस्टेसिंग का पालन करे, मास्क लगावे तथा सभी जरूरी सावधानियो का ध्यान रखे।