चलानी शुल्क पटाने व जमीन की रजिस्ट्रीकृत की सुविधा हो-नीलकंठ

चलानी शुल्क पटाने व जमीन की रजिस्ट्रीकृत की सुविधा हो-नीलकंठ
चलानी शुल्क पटाने व जमीन की रजिस्ट्रीकृत की सुविधा हो-नीलकंठ 

गरियाबंद/छुरा ग्रामीण-आदिवासी विकास खंड छुरा में बहत ही पुराना तहसील कार्यालय  संचालित है। वही राज्य के काँग्रेस सरकार ने कृषको,जनताओ की कार्य के दबाव व सुविधा को ध्यान में रखते हुवे नये राजस्व अनुविभागिय कार्यालय का शुभारंभ किया गया है।  जिससे छात्र छात्राओं, कृषक, व्यापारी, कर्मचारियों सहित आम नागरिको को काफी सुविधाओ का लाभ मिल रहा है  मगर अभी भी अनुविभागीय कार्यालय होने के बावजूद विभिन्न शासकीय अर्धशासकीय कार्यो की चलानी शुल्क पटाने व रजिस्ट्री के लिए गरियाबंद अनुविभागिय कार्यालय  का चक्कर काटना पड़ता है। 


सर्व आदिवासी समाज के प्रदेश प्रतिनिधि व वर्तमान जनपद सदस्य नीलकंठ सिंह ठाकुर ने जिला प्रशासन और राज्य की सरकार से माँग की है।