खुले स्कूल, बच्चों की चहल-पहल से स्कूलों में लौटी रौनक प्रमुख सचिव ने किया बलौदा बाजार जिले के तीन स्कूलों का निरीक्षण, बच्चों की ली क्लास

खुले स्कूल, बच्चों की चहल-पहल से स्कूलों में लौटी रौनक  प्रमुख सचिव ने किया बलौदा बाजार जिले के तीन स्कूलों का निरीक्षण, बच्चों की ली क्लास

खुले स्कूल, बच्चों की चहल-पहल से स्कूलों में लौटी रौनक

प्रमुख सचिव ने किया बलौदा बाजार जिले के तीन स्कूलों का निरीक्षण, बच्चों की ली क्लास


राज्य शासन की घोषणा के अनुरूप स्कूलों में पढ़ाई आज से शुरू हो गई। बड़े उत्साह के साथ बच्चे 16 महीने बाद पढ़ने के लिए स्कूल पहुंचे। स्कूल खुलने के पहले ही दिन आज शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव डॉ. आलोक शुक्ला ने बलौदाबाजार जिले के पलारी विकासखण्ड के गिर्रा और कुसमी स्कूल का निरीक्षण किया। उन्होंने इस दौरान न केवल बच्चों की क्लास ली बल्कि उनके बीच आम बच्चों की तरह बैठकर अपने छात्र जीवन को महसूस किया। उन्होंने लम्बे समय बाद स्कूल पहुंचे बच्चों से स्नेहपूर्वक बात की और उनका मुँह मीठा कर स्वागत किया। 


इस मौके पर कलेक्टर सुनील कुमार जैन, एनएचएम संचालक डॉ. प्रियंका शुक्ला, डीईओ श्री सीएस ध्रुव, राजीव गांधी शिक्षा मिशन के जिला समन्वयक श्री सोमेश्वर राव भी इस मौके पर उपस्थित थे। उन्होंने ग्राम गिर्रा के माध्यमिक स्कूल में कक्षा 8वीं के छात्राओं से क्लास में चल रहे आधुनिक यूरोप के उदय के संबंध में छात्रों से सवाल जवाब किए। स्कूल की प्रधान पाठिका उषा कोटरे ने डॉ. शुक्ला को बताया कि अभी 8वीं की कक्षा संचालित हो रही है। हमनें सभी पालकों से लिखित में अनुमति ली है। कक्षा 8वी में कुल 26 छात्र है, जिसमें से आज पहले दिन 18 छात्र उपस्थित रहें। स्कूल में प्रवेश करते ही प्रत्येक छात्रों का थर्मल स्क्रीनिंग के साथ सेनेटाईज किया गया। साथ परिसर में स्थित प्राथमिक शाला में बनें मध्यान्ह भोजन की गुणवत्ता को भी देखा। आज पहले दिन चावल, दाल, मुनगा की सब्जी एवं साथ ही खीर बनाया गया है। उसी तरह ग्राम कुसमी के हायर सेकेंडरी स्कूल में 10वीं एवं 12वीं के छात्रों से रूबरू हुए साथ ही स्कूल परिसर में वृक्षारोपण भी किया।


अंग्रेजी माध्यम स्कूल का प्रमुख सचिव ने किया निरीक्षण


प्रमुख सचिव डॉ. आलोक शुक्ला ने अपने प्रवास के दौरान जिला मुख्यालय स्थित स्वामी आत्मानन्द अंग्रेज़ी माध्यम स्कूल का भी निरीक्षण किया। स्कूल में फिलहाल पहली से 10वीं तक 400 के लगभग विद्यार्थी अंग्रेज़ी माध्यम में पढ़ाई कर रहे हैं। उन्होंने अंग्रेज़ी में बात कर बच्चों के स्तर का परीक्षण किया। उन्होंने पाया कि बच्चे अब अंग्रेज़ी में बातचीत करना शुरू कर दिए हैं। उन्होंने कहा कि बच्चों को हमें रटाने पर नहीं बल्कि समझाने पर जोर देना है। उन्होंने विज्ञान के विषय जैसे- फिजिक्स, केमेस्ट्री और जीव विज्ञान के लिए अलग-अलग लैब की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। लाइब्रेरी कम रीडिंग रूम को भी बड़े और हवादार बनाने के लिए कहा है। लैब और लाइब्रेरी को भवन के प्रथम तल में बनाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने नव-नियुक्त शिक्षकों से भी चर्चा कर योजना के उद्देश्य बताये। इस मौके पर स्कूल के प्राचार्य के एस तिवारी, एसडीएम महेश राजपूत सहित अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी गण उपस्थित थे।


सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पलारी एवं जिला हॉस्पिटल का किया आकस्मिक निरीक्षण


प्रमुख सचिव श्री आलोक शुक्ला ने जिला अस्पताल बलौदाबाजार और सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पलारी का आकस्मिक निरीक्षण किया। उन्होंने अस्पताल में भर्ती मरीजों से चर्चा कर मिल रही सुविधाओं की जानकारी ली। अस्पताल के सभी वार्डों का निरीक्षण कर उपलब्ध सुविधाओं का परीक्षण किया। डॉ. शुक्ला ने पलारी में अस्पताल उन्नयन के संबंध में डॉक्टरों से विचार-विमर्श किया और अस्पताल में वर्तमान में उपलब्ध सुविधाओं का मुआयना भी किया।