बगदेवा - कटघोरा,पोड़ी सड़क मार्ग नहीं सुधरा तो आंदोलन

बगदेवा - कटघोरा,पोड़ी सड़क मार्ग नहीं सुधरा तो आंदोलन

बगदेवा - कटघोरा,पोड़ी सड़क मार्ग नहीं सुधरा तो आंदोलन


  धूल, कीचड़, गड्ढों से हो रहीं समस्या



कांग्रेस ने दी आंदोलन की चेतावनी 


दीपक शर्मा/कोरबा पाली-नेशनल हाईवे मार्ग -130 बगदेवा (पतरापाली) से कटघोरा तक 42 किमी मे फोरलेन सड़क मार्ग का निर्माण कार्य जारी है।वही पोड़ी से सिल्ली सड़क मार्ग का भी निर्माण हो रहा है। इस कारण इस मार्ग पर चलना दूभर हो गया है। धूल, गड्ढों और कीचड़ से आए दिन आवागमन अवरुद्ध हो रहा है। इसके बावजूद निर्माण एजेंसी अप्रोच मार्ग के मरम्मत के लिए गंभीर नहीं हैं। जिसे लेकर ब्लॉक कांग्रेस कमेटी पाली ने एसडीएम कार्यालय में ज्ञापन सौंपते हुए अगले 7 दिवस में सुधार नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी दी  है।

नेशनल हाईवे फोरलेन सड़क मार्ग का निर्माण  डीबीएल कंपनी कर रहा है। जिसके द्वारा निर्माण कार्य में जमकर लापरवाही बरती जा रही है। इस मार्ग पर प्रतिदिन सैकड़ों की संख्या में वाहन की आवाजाही होती है। यह अंतर राज्य मार्ग होने के कारण बनारस, गढ़वा, झारखंड, यूपी सहित अन्य प्रदेशों के लिए कनेक्टिविटी का कार्य करता है। इसके बावजूद सड़क निर्माण के साथ समानांतर एप्रोच और डायवर्शन सड़क मार्ग का सुधार का जिम्मा भी है। लेकिन  निर्माण कार्य की शुरुआत से लेकर अब तक कंपनी ने एप्रोच सड़क सुधार के लिए कोई कार्य नहीं किया है। जिसके कारण सड़क पर बड़े-बड़े गड्ढे बन गए हैं। सड़क निर्माण के लिए राखड का उपयोग किया जा रहा है जो उनके वाहनों की आवाजाही से सड़क पर गिर रहे हैं जिससे धूल उड़ रही है ।वही बरसात होने पर कीचड़ का आलम रहता है। इसके अलावा कई किसानों के खेतों में घुस गया है तो कहीं पानी निकासी की सही व्यवस्था नहीं करने के कारण खेत तालाब में तब्दील हो गया है। इसे लेकर क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों  ने  कई बार कंपनी का ध्यानाकर्षण कराकर समस्या के निदान की मांग की थी। लेकिन अब तक कोई कार्यवाही नहीं की गई है। 

कुछ ऐसा ही हाल पाली से पोड़ी, पोलमी- सिल्ली होते हुए रतनपुर पेंड्रा मार्ग को जोड़ने वाले मार्ग के निर्माण कार्य का भी है। इस मार्ग में तो हालत और भी खराब है। नानपुलाली के निकट पुल निर्माण में विलंब का खामियाजा लोगों को 20 से 25 किमी का अतिरिक्त फेरा लगाकर झेलना पड़ रहा है। जिसमें धन, समय का अपव्यय हो ही रहा है। वहीं इस मार्ग पर सलिहाभाटा से गुजरने वाले वैकल्पिक सड़क दलदल में तब्दील हो गया है। यह सब निर्माण एजेंसी अग्रवाल कंस्ट्रक्शन की लापरवाही के कारण हो रहा है।

उक्त दोनों सड़क निर्माण कार्य में लगी एजेंसिया केवल अपना निर्माण कार्य तक ध्यान दे रही हैं जबकि आम जनता, किसानों और यात्रियों के हित से कोई सरोकार नहीं है ।जबकि समानांतर एप्रोच और डायवर्शन सड़कों का मरम्मत सुधार का भी जिम्मा है। इसके बावजूद इसकी अनदेखी की जा रही है। जिससे सड़क पर पैदल चलना तक दूभर हो गया है और मिनटों का रास्ता घंटों में पार हो रहा है।


*काम बंद रुकवा,कार्यालय का होगा घेराव ,प्रशांत मिश्रा* 


राज्य गौ सेवा आयोग के सदस्य एवं सांसद प्रतिनिधि प्रशांत मिश्रा ने इस दोनों सड़क निर्माण एजेंसियों  को चेतावनी दी है कि यदि 7 दिवस के भीतर सड़क मरम्मत सुधार कार्य नहीं हुआ और किसानों, आम जनता और परिवहन कर्ताओं की समस्या का समाधान नहीं हुआ तो  सड़क निर्माण कार्य को पूरी तरह बंद करा दिया जायेगा। डीबीएल कंपनी के चैतमा कार्यालय का घेराव किया जाएगा साथ ही चक्का जाम आंदोलन किया जाएगा। इस आशय का ज्ञापन एसडीएम कार्यालय पाली में ब्लॉक कांग्रेस कमेटी की ओर से दिया गया है।