शिवरात्री के अवसर पर आज नगर के गौरी शंकर मंदिर में विशेष पूजा का आयोजन

शिवरात्री के अवसर पर आज नगर के गौरी शंकर मंदिर में विशेष पूजा का आयोजन

शिवरात्री के अवसर पर आज नगर के गौरी शंकर मंदिर में विशेष पूजा का आयोजन


 

गरियाबंद - गुरूवार को महाशिवरात्री के अवरस पर नगर सिविल लाइन स्थित गौरी शंकर मंदिर में विशेष पूजन का आयोजन किया गया है। ज्ञात हो कि इस मंदिर में द्वादश ज्योतिर्लिंग शिवलिंग, भगवान गौरीशंकर गणेश एवं कार्तिकेय की मनोरम मूर्ति आकर्षण का केन्द्र बनी हुई है। भगवान शिव सहपरिवार नंदी एवं शेर की सवारी की ऐसी मूर्ति छत्तीसगढ़ में कही नही है। ज्योतिर्लिंग के साथ शिवलिंग एवं नंदी विराजमान है, एक साथ एक ही मंदिर में शिव परिवार एवं द्वादश ज्योतिर्लिंग की स्थापना में शिवलिंग के सामने नंदी विराजमान है और शिवपुराण में इस दृष्य का वर्णन है कि जहां भगवान भोलेनाथ अपने सभी स्वरूपो में विराजमान रहते है वही नंदी के कान मे अपनी प्रार्थना करने पर सीधे भोलेनाथ तक आपकी प्रार्थना पहुंचती है। इसी के अनुसार इस मंदिर की भव्यता एवं दर्शनार्थी इसके लाभ पाकर अपनी मनोकामना रखते है और भोलेनाथ उनकी समस्याओं का तत्काल निराकरण करते है। ऐसे अनेको उदाहरण वर्षभर इस मंदिर मे देखने को मिलते है। इस वर्ष भी शिवरात्रि में शिवलिंग का श्रृंगार महाकाल के रूप में होगा। द्वादश ज्योतिर्लिंग गौरीशंकर के दर्शन हेतु प्रातः 5 बजे से अभिषेक उपरांत मंदिर खुला रहेगा। अंचल मंे स्थित इस अद्भुत और भव्य मंदिर में भगवान भोलेनाथ के सहपरिवार स्थापित शिवलिंग एवं मूर्ति के दर्शन के लिए जिले सहित बाहर के लोगो का भी ताता लगा रहता है।